​​नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। Lockdown Extended in Delhi!  देश की राजधानी दिल्ली में क्या लॉकडाउन पूरी तरह से समाप्त हो चुका है या फिर 21 जून तक बढ़ा दिया गया है? इसको लेकर दिल्ली ही नहीं नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम-फरीदाबाद के लोग भी गफलत में है। इसकी एक बड़ी वजह यह है कि अनलॉक 1 के बाद अनलॉक-2 और अनलॉक- 3 के तहत छूट का एलान हुआ है, लेकिन लॉकडाउन खत्म करने बात कहीं नहीं कही गई है। लोग यह मानकर चल रहे हैं कि अभी अनलॉक-4 के तहत भी कई तरह की छूट की घोषणा की जाएगी और फिर लॉकडाउन खत्म होगा। लोग यह मानकर चल रहे हैं कि दिल्ली में आगामी 21 जून तक लॉकडाउन जारी है। दरअसल, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अनलॉक-1 और अनलॉक-2 के लिए छूट का एलान करने के दौरान लॉकडाउन जारी रखने का एलान किया था, लेकिन इस बार 13 जून को डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने ऐसा कुछ नहीं कहा, इससे सारी गलतफहमी हुई। वैसे 

स्पष्ट निदेश के अभाव में लोगों को है गफलत

वहीं, दिल्ली आपदा प्रंबधन प्राधिकरण द्वारा स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी नहीं करने से भी लोगों में गलतफहमी बरकरार है। रविवार को हुई बैठक में डीडीएमए ने छूट और पाबंदी को लेकर तो दिशा-निर्देश जारी किया, लेकिन लॉकडाउन जारी रहेगा या नहीं? इस पर एक शब्द नहीं कहा। यही गलतफहमी की वजह बनी।

ग्रेटर नोएडा के रहने वाले तीर्थ राम का कहना है कि मैं वैसे तो नोएडा-ग्रेटर नोएडा में काम करता है, लेकिन कच्चे माल के लिए दिल्ली जाना होता है, लेकिन लॉकडाउन खत्म करने का एलान तो हुआ नहीं, इसलिए असमंजस है। बता दें कि दिल्ली में ज्यादातर छूट का एलान हो चुका है और साथ ही कई तरह की पाबंदियां अब भी हैं। मसलन, अगर किसी ने मास्क नहीं लगाया है तो 2000 रुपये का जुर्माना लगेगा। 

लॉकडाउन खत्म होने के बाद दिल्ली में क्या-क्या है अब भी बंद 

  • स्‍कूल
  • कॉलेज
  • शिक्षण संस्‍थान
  • कोचिंग सेंटर
  •  सामाजिक आयोजन
  • राजनीतिक आयोजन
  • खेल समारोह
  • मनोरंजन
  • सांस्कृतिक समारोह
  • धार्मिक आयोजन
  • सिनेमा हॉल और थियेटर
  • एंटरटेनमेंट पार्क
  • बैंक्वेट हॉल
  • ऑडिटोरियम
  • स्‍पा
  • जिम
  •  पब्लिक पार्क
  • गार्डन
  • स्विमिंग पूल
  • स्टेडियम
  • स्‍पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स

क्या खुला

  • रेस्‍तरां 50 फीसद क्षमता के साथ लोग आ सकेंगे
  • शादियां केवल कोर्ट या घरों में हो पाएंगी। इस दौरान अधिकतम 20 लोग ही शामिल हो सकेंगे।
  • अंतिम संस्‍कार में अधिकतम 20 लोग शामिल हो सकेंगे।
  • दिल्‍ली मेट्रो 50 फीसद क्षमता के साथ चलती रहेगी।
  • ऑटो-कैब में अधिकतम 2 यात्री ही बैठ सकेंगे।

दिल्ली में अब मामले और संक्रमण दर दोनों 24 फरवरी के मुकाबले कम हो गए हैं।सफदरजंग अस्पताल के कम्युनिटी मेडिसिन के निदेशक प्रोफेसर डॉ. जुगल किशोर ने कहा कि दिल्ली में दूसरी लहर तो थम गई है लेकिन देश में अब भी कई जगहों पर मामले थोड़े अधिक आ रहे हैं। इसलिए कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। इसलिए लोगों को भीड़ वाली जगहों पर जाने से बचना होगा। घर से बाहर निकलने पर मास्क का इस्तेमाल जारी रखना होगा। यदि किसी को बीमारी हो तो घर से बाहर न निकलें। जब तक देश से कोरोना खत्म नहीं हो जाता तब बचाव के नियमों का पालन करते रहना होगा। क्योंकि वायरस में म्यूटेशन होने से संक्रमण बढ़ भी सकता है। वायरस में म्यूटेशन के कारण ही दूसरी लहर में अधिक क्षति हुई। ऐसा वक्त दोबारा न आए उसका सबको ध्यान रखना होगा।

भाजपा ने की मांग, पार्क भी खोलें

सोमवार से दिल्ली में अनलॉक का तीसरा चरण शुरू हो गया है, लेकिन पार्क अभी भी बंद हैं। इससे इससे सुबह-शाम सैर करने वालो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर ¨सह बिधूड़ी व व विधायक विजेंद्र गुप्ता ने ट्वीट करके उपराज्यपाल अनिल बैजल व मुख्यमंत्री अर¨वद केजरीवाल से कोरोना नियमों के साथ पार्क खोलने की मांग की है। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार पर दिल्ली को अनलाक करते वक्त सभी मामलों में एक जैसी नीति न अपनाने का आरोप लगाया है।

उनका कहना है कि बाजार, माल, शराब की दुकानें, होटल और रेस्तरां तो खोल दिए गए हैं लेकिन पार्क अभी तक नहीं खोले गए। उन्होंने उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री से अविलंब दिल्ली के सभी पार्कों को खोलने की घोषणा करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि पार्कों में लोग दूरी बनाकर सुबह व शाम के समय सैर करते हैं।

उन्होंने कहा कि बाजार में लोग इकट्ठे हो रहे हैं। आटो में दो सवारी बैठने की इजाजत है और शराब की दुकानों पर भी भीड़ जुट रही है। जिन शर्तों पर बाजार खोलने की इजाजत दी गई है, उन्हीं शर्तों पर पार्क भी खोले जाने चाहिए। जिन पार्कों में जिम हैं, वहां इसके इस्तेमाल पर रोक लगाई जा सकती है, लेकिन लोगों को सुबह या शाम की सैर के लिए पार्क में जाने की इजाजत दी जानी चाहिए। डायबिटीज और अन्य बीमारियों से पीडि़त लोगों के स्वास्थ्य के लिए सैर लाभदायक है। इनकी सेहत को ध्यान में रखकर सरकार को उचित कदम उठाना चाहिए।

Edited By: Jp Yadav