कविता त्रिपाठी। Weight Loss Myths and Facts: वर्तमान की भागदौड़ भरी लाइफस्टाइल और इसके साथ ही फास्ट फूड, जंक फूड और प्रोसेस्ड फूड का चलन महिलाओं को मोटापे से ग्रसित कर रहा है। मोटापे से छुटकारा पाने के लिए महिलाएं विभिन्न प्रकार के उपाय किया करती हैं। यह बात और है कि उनका मोटापा कम नहीं हो पाता है। इसके साथ ही अपने मन से किए जाने वाले उपायों के कारण वे शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों से भी वंचित रह जाती हैं। इसका नतीजा यह होता है कि लंबे अंतराल के बाद वे विभिन्न प्रकार की शारीरिक और मानसिक समस्याओं से भी पीड़ित होने लगती हैं। यदि आप वजन कम करना चाहती हैं तो जरूरी है कि लोगों के बीच व्याप्त भ्रामक बातों की हकीकत को समझें और इसके बाद ही अपना वजन कम करने के लिए उपाय करें।

मिथ: लंबे समय तक भूखे रहने और बीच-बीच में खाना छोड़ देने से जल्दी वजन कम किया जा सकता है

हकीकत: ऐसा बिल्कुल नहीं है। वजन कम करने का सबसे सही तरीका है कि बैलेंस डाइट ली जाए अर्थात में आपके भोजन की थाली में ऐसे आहार शामिल हों, जो शरीर को सभी पोषक तत्व प्रदान करें साथ ही आपको दिनभर ऊर्जावान रखें। दिनभर का एक डाइट चार्ट बनाएं। इसके साथ ही एक बार में ढेर सारा भोजन करने के स्थान पर थोड़े-थोड़े अंतराल पर और थोड़ा-थोड़ा खाएं। वजन कम करने के लिए जरूरी है कि बैलेंस डाइट के साथ ही प्रतिदिन सुबह और शाम के समय योग और व्यायाम करें। प्रतिदिन कम से कम तीन-चार किमी. पैदल चलें। यदि आप लंबे समय तक भूखी रहती हैं या बीच-बीच में भोजन नहीं करती हैं तो शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति नहीं हो पाती है साथ ही ऐसा करने से धीरे-धीरे आप विभिन्न शारीरिक और मानसिक समस्याओं से ग्रसित होती जाएंगी।

मिथ: यदि मैं प्रतिदिन काफी व्यायाम करती हूं तो कुछ भी खा सकती हूं।

हकीकत: यह सच नहीं है। आपको भोजन के जरिए ली जाने वाली कैलोरी की मात्रा कम करने के साथ ही शारीरिक सक्रियता बढ़ानी चाहिए। यदि आप ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर करने के बाद हर बार कोई मीठा खाद्य पदार्थ लेती हैं जिसमें शक्कर का प्रयोग किया गया हो तो इसके जरिये आपके शरीर में अतिरिक्त कैलोरी जाएगी। इसलिए व्यायाम करने के साथ ही अपने खानपान पर भी पूरा ध्यान देना होगा।

मिथ: वजन कम करने का सबसे आसान तरीका है दिन में एक बार भोजन करना।

हकीकत: यह सच है कि यदि आप दिन में एक बार भोजन करने लगती हैं तो आपका वजन शुरू में तो कम होने लगता है, लेकिन बाद में कम होना रुक जाता है। दिन में एक बार भोजन करने से आपके द्वारा ली गई कैलोरी और भोजन की मात्रा भी अधिक हो जाती है। ऐसा करना सेहत के लिए बहुत घातक साबित हो सकता है। कारण, दिन में एक बार भोजन करने से शरीर को आवश्यक ऊर्जा और पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। इसके साथ ही आपकी बाडी क्लाक प्रभावित हो सकती है। लंबे समय तक ऐसा करने से न केवल आपको चक्कर आने लगेंगे, बल्कि आप कभी भी बेहोश हो सकती हैं। इसके साथ ही आप हृदय संबंधी समस्याओं से पीड़ित हो सकती हैं। यही नहीं आप मधुमेह से भी ग्रसित हो सकती हैं। वजन कम करने के लिए जरूरी है कि आप दिन में कई बार और कुछ न कुछ पौष्टिक चीजें खाती रहें, जैसे मौसमी फल, सलाद, अंकुरित या उबले साबुत अनाज, भुने चने, उबली हरी सब्जियां आदि।

मिथ: केवल फलों और सब्जियों का जूस पीने से वजन कम करने में काफी मदद मिलती है।

हकीकत: यह सही नहीं है। केवल जूस पीने से शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल सकते हैं। जूस से शरीर को अतिरिक्त कैलोरी मिलती है, लेकिन पर्याप्त फाइबर नहीं पहुंच पाता है, जबकि शरीर को सेहतमंद रखने और वजन कम करने के लिए जरूरी है कि आपके खानपान में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, फैट, खनिज तत्व, विटामिंस आदि शामिल हों। विभिन्न पोषक तत्वों के बिना आप शारीरिक और मानसिक रूप से प्रभावित होंगी।

[सीनियर डाइटीशियन]

Edited By: Prateek Kumar