नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय नवंबर से अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए खुलेगा। जामिया कुलसचिव ने इस बाबत एक आदेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि फिलहाल 31 दिसंबर तक थीसिस जमा करने वाले पीएचडी शोधार्थियों को ही परिसर में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। पीएचडी शोधार्थी लाइब्रेरी सुविधा का भी लाभ उठा सकते हैं। हालांकि, लाइब्रेरी में प्रवेश के लिए उन्हें आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी।

जामिया ने बताया कि नवंबर से अंतिम वर्ष के छात्र परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। छात्र प्रैक्टिकल व इसकी आफलाइन कक्षा के लिए ही परिसर में आएंगे। विभागों को कहा गया है कि वो सीमित संख्या में ही छात्रों को प्रवेश की अनुमति दें। जामिया ने स्पष्ट किया कि पढ़ाई और परीक्षाएं आनलाइन ही होंगी।

अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए 27 से खुलेगा जेएनयू

वहीं, जेएनयू में छात्रों की चरणबद्ध वापसी का तीसरा चरण बृहस्पतिवार से प्रारंभ हो गया। पीएचडी तृतीय वर्ष के छात्र परिसर में दाखिल हो रहे हैं। जेएनयू प्रशासन ने बताया कि बड़ी संख्या में छात्र आइडी कार्ड जारी करने की गुजारिश कर रहे हैं। अब कालेज और विभागों में भी आइडी कार्ड जारी होंगे। वहीं सोमवार से परिसर वापसी का चौथा चरण प्रारंभ होगा। एमएससी के अंतिम वर्ष, बीटेक चतुर्थ वर्ष, एमबीए अंतिम वर्ष के छात्रों को प्रवेश की इजाजत दी जाएगी।

इग्नू के आनलाइन डिप्लोमा कोर्स की परीक्षाएं 27 से

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) के आनलाइन डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स की जून टर्म एंड की परीक्षाएं 27 सितंबर से होंगी। ये परीक्षाएं छह अक्टूबर तक चलेंगी। इसके लिए विवि ने परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया है। परीक्षा दो पालियों में होंगी। परीक्षा का समय सुबह 10:30 से 12 बजे और दोपहर में 2:30 से चार बजे तक होगा। परीक्षा आनलाइन माध्यम से आयोजित की जाएगी। इसके लिए छात्र सिर्फ लैपटाप और डेस्कटाप का ही इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही अपने घर या अन्य उपयुक्त स्थान से आनलाइन परीक्षा दे सकते हैं।

Edited By: Mangal Yadav