नई दिल्ली [सुशील गंभीर]। टूल किट मामले में आरोपित मुंबई निवासी अधिवक्ता निकिता जैकब की जमानत याचिका पर मंगलवार को सुनवाई होगी। निकिता जैकब ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में अर्जी दायर कर गिरफ्तारी से राहत देने की मांग की है। अर्जी में कहा गया है कि वह दिल्ली पुलिस की पूछताछ में पूरा सहयोग कर रही है। जब भी उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया, तो पहुंचकर अपना बयान दर्ज कराया और पुलिस के सवालों का जवाब दिया।

बता दें कि टूल किट मामले में दिशा रवि को जहां जमानत मिल चुकी है, वहीं दूसरे आरोपित शांतनु मुलुक की अग्रिम जमानत याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिए पुलिस ने मोहलत मांगी थी। उसकी अर्जी पर 9 मार्च को सुनवाई होनी है और तब तक उसे गिरफ्तार नहीं किया सकता। अब निकिता की अर्जी पर जवाब दाखिल करने के लिए भी पुलिस मंगलवार को कुछ समय की मोहलत मांग सकती है।

वहीं, दिल्ली पुलिस का कहना है कि दिशा रवि समेत ये लोग खालिस्तानी आतंकी गुरुपतवंत सिंह पन्नू से प्रभावित है। दिशा ने तो 3 फरवरी को टूलकिट एडिट कर डेटा डिलीट कर दिया है। इसने दो लाइन एडिट करने की बात स्वीकारी है और यह भी कहा है कि इसने किसानों के समर्थन में ऐसा किया था जो अन्नदाता हैं। उनके आंदोलन से यह प्रभावित है। किसान उन्हें खाना व पानी देते हैं। पुलिस की ओर से यह भी कहा गया कि टूलकिट मामले में शांतनु और निकिता को गिरफ्तार किया जाना बाकी है। 

यहां पर बता दें कि दिल्ली की निचली अदालत से दिशा रवि को जमानत मिल चुकी है, इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस को इस मामले में तगड़ी फटकार भी कोर्ट ने लगाई थी। दरअसल, 26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर सख्ती दिखाते हुए जांच तेजी से आगे बढ़ा रही है। इसमें अब तक दर्जनभर लोग गिरफ्तार हो चुके हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप