Move to Jagran APP

Bharat Jodo Yatra को लेकर BJP के आरोपों पर गोहिल का पलटवार, कहा- परिवार को छोड़ने वाले बात ना ही करें तो बेहतर

दिल्ली कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने PM मोदी का नाम लिए बगैर कहा कि जो परिवार को छोड़कर बैठे है वह परिवार की बात ना करें। यात्रा में सोनिया गांधी प्रियंका गांधी वाड्रा और राबर्ट वाड्रा के जुड़ने पर BJP ने परिवार जोड़ो यात्रा की संज्ञा दी थी।

By Sanjay GuptaEdited By: Abhi MalviyaSat, 24 Dec 2022 02:35 PM (IST)
तीन जनवरी से आरंभ होगा यात्रा का दूसरा पड़ाव

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। राज्यसभा सदस्य और दिल्ली कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम लिए बगैर कहा कि जो परिवार को छोड़कर बैठे परिवार की बात न ही करें तो बेहतर होगा। दरअसल, आश्रम चौक पर जयराम आश्रम में पत्रकार वार्ता में जब उनसे पूछा गया कि भारत जोड़ो यात्रा में सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और राबर्ट वाड्रा के जुड़ने पर भाजपा ने इसे भारत जोड़ो यात्रा की बजाए परिवार जोड़ो यात्रा की संज्ञा दी है।

गोहिल ने दिया जवाब

परिवार जोड़ो यात्रा के आरोपों पर गोहिल बिफर गए और उन्होंने तीखा जवाब दिया। उन्होंने यह भी कहा कि यात्रा में शामिल सभी लोग परिवार वाले हैं और अपने परिवार से जुड़े हुए ही हैं। वहीं कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता जयराम रमेश ने कहा कि भाजपा को कोरोना से ज्यादा यात्रा की सफलता का डर सता रहा है। चिंता भी इस बात की है कि राहुल की यह यात्रा कन्याकुमारी से दिल्ली तक कैसे पहुंच गई!

यात्रा के 108 दिन

जयराम ने बताया कि 108 दिन के सफर में भारत जोड़ो यात्रा नौ राज्यों और 46 जिलों से होते हुए शनिवार को दिल्ली पहुंची है। इस दौरान कुल 3570 किलोमीटर से में करीब 32 सौ किलोमीटर की दूरी तय कर ली गई है। अब यात्रा में शामिल नेता व कार्यकर्ता नौ दिन का विश्राम लेंगे। इस विश्राम के दौरान अब सभी यात्री अपने-अपने घर जाएंगे।

इसकी मुख्य वजह यह भी है कि यात्रा में साथ चल रहे कंटेनर मरम्मत मांग रहे हैं। उनमें कुछ दिक्कतें आ रही है एवं उनकी सर्विस कराना जरूरी है। साथ ही उनमें मौसम के हिसाब से बदलाव भी किया जाएगा। क्योंकि दिल्ली से आगे मौसम की मार का भी सामना करना पड़ेगा। यात्रा के दौरान शीत लहर भी चलेगी। इस सब को देखते कंटेनर में कुछ तब्दीली भी की जाएगी।

तीन जनवरी से आरंभ होगा यात्रा का दूसरा पड़ाव

गोहिल ने बताया कि यात्रा का दूसरा पड़ाव तीन जनवरी को आरंभ होगा। इस दौरान यह यात्रा दिल्ली से उत्तर प्रदेश होते हुए फिर से हरियाणा में दखिल होगी। इस बार पानीपत कुरुक्षेत्र के रास्ते पंजाब से होते हुए जम्मू कश्मीर पहुंचेगी। इस दौरान 30 जनवरी से पहले और 26 जनवरी के बाद लाल चौक पर राष्ट्रीय ध्वज भी फहराया जाएगा।

पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने बताया कि कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत 120 स्थायी यात्रियों से हुई थी जो अब बढक़र 135 हो गई है। खेड़ा ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार भारत जोड़ो यात्रा को लगातार बदनाम करने की कोशिश कर रही है। सरकार में होते हुए ये लोग कोविड-19 महामारी से संबंधित गाइडलाइंस जारी नहीं कर रहे हैं जबकि राहुल गांधी को बार-बार यात्रा बंद करने की सलाह दे रहे हैं। इससे अच्छा है कि मोदी सरकार गाइड लाइंस जारी कर दे। यात्रा में शामिल लोग उसका पालन करेंगे।

यह भी पढ़ें- Rahul Gandhi Yatra: भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं सोनिया और प्रियंका गांधी, रॉबर्ट वाड्रा ने भी की शिरकत

दिल वालों की है दिल्ली- गोहिल

गोहिल ने कहा कि दिल्ली दिल वालों की है। इसका आभास दिल्ली में प्रवेश करते ही हो गया था जब हजारों की संख्या में लोगों ने भारत जोड़ो यात्रा का जोरदार स्वागत किया। राहुल गांधी का भी यही मानना है चुनाव हित से बड़ा राष्ट्रहित है। हमें लोगों के दिलों को जीतना है।

यह भी पढ़ें- Bharat Jodo Yatra: 'मास्क पहनो, यात्रा बंद करो... बहाने बना रही सरकार', मांडविया की चिट्ठी पर राहुल का पलटवार