Move to Jagran APP

Delhi: छात्रा ने ट्यूशन टीचर पर लगाया गलत तरीके से छूने का आरोप, पुलिस की जांच ने चौंकाया

Delhi Crime News Hindi दिल्ली के एक स्कूल की कक्षा आठवीं की छात्रा ने अपने ट्यूशन टीचर पर गलत तरीके से छूने का आरोप लगाया। पुलिस में शिकायत की गई और छात्रा की उसके माता-पिता के सामने काउंसलिंग कराई गई। जब जांच हुई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। उसके माता-पिता ने मेडिकल जांच कराने से इनकार कर दिया है।

By Jagran News Edited By: Geetarjun Tue, 09 Jul 2024 07:29 PM (IST)
Delhi: छात्रा ने ट्यूशन टीचर पर लगाया गलत तरीके से छूने का आरोप, पुलिस की जांच ने चौंकाया
छात्रा ने ट्यूशन टीचर पर लगाया गलत तरीके से छूने का आरोप

जागरण संवाददाता, दक्षिणी दिल्ली। महरौली थाना क्षेत्र के एक स्कूल की छात्रा ने अपने ट्यूशन टीचर पर गंदे तरीके से छूने का आरोप लगाया। जब किशोरी की काउंसिलिंग की गई तो सारा मामला फर्जी निकला। ट्यूशन न आने व पढ़ाई को लेकर टीचर ने उसे डांट दिया था।

इस वजह से उसने आरोप लगाया था। पुलिस ने पूरे मामले की छानबीन की। इस मामले में पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी गई है।

पुलिस को मिली थी सूचना

पुलिस उपायुक्त अंकित चौहान ने बताया कि सोमवार को एक पीसीआर कॉल मिली थी। इसमें कॉलर ने बताया कि एक बच्ची को ट्यूशन टीचर ने गलत तरीके से छुआ है। सूचना मिलने पर पुलिस संबंधित स्कूल पहुंची। यहां पर महिला काउंसलर से बात की।

माता-पिता की मौजूदगी में हुई काउंसलिंग

स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ाई करने वाली छात्रा ने ट्यूशन टीचर पर गलत तरीके से छूने का आरोप लगाया। इस पर संबंधित छात्रा की उसके माता-पिता की मौजूदगी में काउंसिलिंग की गई। किशोरी ने बताया कि वह पांच महीने पहले जब ट्यूशन जाती थी तो टीचर ने उसके सिर पर हाथ रखकर पढ़ाई करने के लिए कहा था। साथ ही उसे डांट भी लगाई थी।

चार महीने से ट्यूशन नहीं जा रही थी छात्रा

काउंसिलिंग में पता चला कि छात्रा चार महीने से ट्यूशन नहीं जा रही थी। उसने बताया कि टीचर ने उसके साथ कोई गलत हरकत नहीं की है। इस संबंध में उसका बयान दर्ज किया गया। उसकी मां ने बताया कि ट्यूशन टीचर अपने घर पर ही ट्यूशन पढ़ाता था।

उन्होंने बताया कि कि शायद पढ़ाई के लिए बेटी को डांटा गया हो। पुलिस जांच में भी अश्लील हरकत करने की बात सामने नहीं आई। वहीं, छात्रा के माता-पिता ने उसकी मेडिकल जांच कराने और कोई भी कानूनी कार्रवाई कराने से इनकार कर दिया।

ये भी पढ़ें- किडनी ट्रांसप्लांट रैकेट का पर्दाफाश, नामी महिला डॉक्टर समेत सात गिरफ्तार; दिल्ली से लेकर बांग्लादेश तक जुड़े तार