नई दिल्ली (जेएनएन)। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री व वर्तमान में कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के डिग्री विवाद में पटियाला हाउस कोर्ट में आज दिल्ली यूनिवर्सिटी और निर्वाचन आयोग ने विवाद से जुड़े दस्तावेजों को कोर्ट में सौंप दिया। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को समन भेजने के बारे में पटियाला हाउस कोर्ट 27 अगस्त को सुनवाई करेगा।

कोर्ट ने आज सुनवाई के दौरान डिग्री से जुड़े दस्तावेजों को देखने के बाद इस मामले में अगली सुनवाई के लिए 27 अगस्त की तारीख तय की है।

स्मृति ईरानी की डिग्री का नहीं मिल रहा रिकॉर्ड ः DU

यहां पर याद दिला दें कि इससे पहले कोर्ट ने 16 मार्च को डीयू को आदेश दिया था कि स्मृति ईरानी के ग्रेजुएशन में एडमिशन से जुड़े सभी दस्तावेज कोर्ट में जमा किए जाएं। कोर्ट ने चुनाव आयोग भी आदेश जारी किया है।

वहीं, चुनाव आयोग को जारी निर्देश में कोर्ट ने कहा था कि स्मृति ईरानी ने चुनाव के समय जो हलफनामा दिया था, वह कोर्ट में जमा किया जाए, ताकि स्थिति स्पष्ट हो सके। कोर्ट ने इस मामले में 3 मई को भी सुनवाई की थी।

ये भी पढ़ें- स्मृति ईरानी डिग्री विवाद: EC अधिकारियों ने कोर्ट में जमा कराए दस्तावेज

जानें क्या है विवाद

वर्ष 2004 के लोकसभा चुनाव में स्मृति चांदनी चौक से कपिल सिब्बल के खिलाफ मैदान में उतरी थीं, तब उन्होंने नामांकन पत्र में अपनी शैक्षणिक योग्यता बीए बताई थी और उनके मुताबिक ये डिग्री उन्होंने 1996 में पूरी की थी।

वहीं, 2014 के लोकसभा चुनावों में अमेठी से राहुल गांधी के खिलाफ मैदान में उतरने समय शपथ पत्र में स्मृति ने अपनी एजुकेशन बीकॉम प्रथम वर्ष बताया है।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस