नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। सफदरजंग एनक्लेव थाना क्षेत्र में नशे में धुत नाबालिगों ने एक चाय विक्रेता को मामूली कहासुनी के बाद गोली मार दी। पुलिस को घटना की जानकारी रविवार तड़के चार बजे मिली थी। घायल की पहचान इंदिरा एनक्लेव निवासी रामकिशन के रूप में की गई है। पुलिस ने घायल को अस्पताल में भर्ती करवा दिया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। फिलहाल पुलिस ने घटना में शामिल तीन नाबालिगों को हिरासत में ले लिया है और फरार चल रहे एक अन्य शख्स की तलाश कर रही है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार तड़के करीब चार बजे रामकिशन अपनी दुकान खोलने की तैयारी कर रहा था। इसी बीच तीन लड़के मौके पर पहुंचे। उन्होंने कुछ खाने को मांगा। रामकिशन ने उन्हें बताया कि सुबह होने के कारण दुकान पर कुछ तैयार नहीं है। लड़के कुछ दूरी पर खड़े हो गए और सिगरेट पीने लगे। इसके बाद जब पीड़ित शौच के लिए गया तो इन लड़कों ने उस पर कुछ फब्तियां कसीं, जिसका विरोध करने पर दोनों पक्षों में कहासुनी होने लगी।

इसी बीच लड़कों ने फोन कर अपने एक अन्य साथी को बुला लिया। उसी ने चाय विक्रेता को गोली मारी थी। पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने तीन आरोपितों को को पकड़ लिया है। जबकि एक अन्य आरोपित की तलाश में दबिश दी जा रही है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक अभी तक घटना में इस्तेमाल पिस्तौल बरामद नहीं की जा सकी है।

वहीं एक अन्य मामले में नेब सराय थाना क्षेत्र के संगम विहार इलाके में रविवार देर शाम तीन बदमाशों ने एक युवक को घर से बुलाकर चाकू मारकर हत्या कर दी। वारदात को तीन युवकों ने अंजाम दिया है जो घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गए हैं। पुलिस ने फुटेज के आधार पर आरोपितों की पहचान कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार, मृतक की पहचान 18 वर्षीय इमरान के रूप में की गई है। इमरान एल- 2 संगम विहार में परिवार के साथ रहता था और पेंटिंग का काम करता था। मृतक की मां ने बताया कि रात करीब आठ बजे इमरान खाना खा रहा था तभी उसे किसी का फोन आया था। फोन आने के बाद वह घर से निकल गया थोड़ी ही देर बाद एक युवक ने आकर बताया कि उसे कुछ लड़कों ने चाकू मार दिया है। जानकारी मिलते ही घर के लोग मौके पर पहुंच गए। खून से लथपथ इमरान को एम्स ले गए पर इलाज के दौरान ही उसने दम तोड़ दिया। दक्षिणी दिल्ली जिले की पुलिस उपायुक्त बेनिता मैरी जैकर ने बताया कि पुलिस की दो टीमें फुटेज में दिख रहे लड़कों की तलाश में लगाई हैं।

Edited By: Pradeep Chauhan