ग्रेटर नोएडा/बिलासपुर [घनश्याम पाल]। गांव दनकौर नवादा में डेंगू-मलेरिया का खौफ बढ़ता ही जा रहा है। चार दिन पहले 18 वर्ष छात्रा मोनिका प्रजापत की मौत होने के पश्चात बुधवार देर शाम 60 वर्ष के जग्गा जाटव की भी मौत हो गई। इनका इलाज बुलंदशहर संस्कार हॉस्पिटल में चल रहा था। बुखार से गांव में खौफ फैला हुआ है।

डेंगू एवं मलेेरिया को लेकर रहें सावधान

गांव नवादा डेंगू मलेरिया के खौफ से डरा और सहमा हुआ है। वहीं, अस्तौली गांव में संजय प्रजापति पुत्र पुरन सिंह व आजमपुर गढ़ी गांव के स्वराज प्रजापति पुत्र रतनलाल की बुखार से मौत मंगलवार की हुई। ग्रामीण मुख्य चिकित्सा अधिकारी और प्राधिकरण पीएमओ से गुहार लगाते हैं। इनका कहना है कि गांव में साफ सफाई फॉगिंग समय पर हो। वहीं मुख्य चिकित्सा से मांग की है कि घर-घर में मिल रहे डेंगू पीड़ितों का कैंप में इलाज हो।

अधिकारी को सौंपा पत्र

नवादा गांव निवासी पर्यावरण संरक्षण समिति के अध्यक्ष संजय नवादा के नेतृत्व में हस्ताक्षर युक्त पत्र दनकौर स्थित पीएचसी प्रभारी डॉ नरेंद्र तिवारी व ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण के अधिकारी सलिल यादव को सौंपा गया है

नवादा गांव में महिला स्वास्थ्य कर्मी, आशा व संगनी सुपरवाइजर डॉक्टर की निगरानी में घर घर सर्वे कराया जा रहा है। संचारी रोग संबंधित मरीजों का जांच दवाएं आदि स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराया जा रहा है।

डॉ नरेंद्र तिवारी, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी पीएचसी दनकौर

बता दें कि पिछले एक सप्ताह से बिलासपुर क्षेत्र के गांव नवादा में सैकड़ों वायरल, टायफायड, मलेरिया व डेंगू मरीज जिले के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं। डेंगू अब जानलेवा होने लगा है। नवादा गांव की 12वीं की छात्र मोनिका प्रजापति पुत्री ओमपाल की ग्रेटर नोएडा के एक निजी अस्पताल में डेंगू से मौत हो गई। मोनिका एसडीएस इंटर कालेज नवादा की छात्र थी। इस घटना के बाद से गांव व आसपास के क्षेत्र में भय का माहौल है। उधर, गांव में अधिकतर मरीज प्लेटलेट्स कम होने पर आइसीयू में भर्ती हैं, जबकि 100 से अधिक मरीजों की प्लेटलेट्स कम होने व 64 मरीजों की डेंगू से पाजीटिव की पुष्टि हुई है।

स्वास्थ्य विभाग ने लगाया शिविर

बिलासपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. रमेश चावड़ा के नेतृत्व में नवादा गांव में शिविर लगाया गया। 156 बुखार मरीजों की जांच कर निश्शुल्क दवाएं दी गई। इस दौरान डा. मनीष यादव, श्यामवीर, हरेंद्र नागर आदि मौजूद रहे।

Edited By: Prateek Kumar