नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली के नामी अस्पताल राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल की रेडियोलॉजिस्ट डॉ. पूनम वोहरा ने बुधवार दोपहर अपने सरकारी आवास में पंखे से लटककर खुदकशी कर ली। घर से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उन्होंने अपने ही अस्पताल के तीन डॉक्टरों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। बहरहाल, पुलिस की एक विशेष टीम मामले की जांच कर रही है।

डीसीपी मधुर वर्मा के मुताबिक, 52 वर्षीय डॉ. पूनम वोहरा बाबा खड़ग सिंह मार्ग नार्थ एवेन्यू स्थित सरकारी फ्लैट के सी ब्लॉक में पति चिरंजीव वोहरा व बच्चे के साथ रहती थीं। वह 2016 में आरएमएल में बतौर कंसल्टेंट रेडियोलॉजिस्ट नियुक्त हुई थीं और दिल्ली की जानी-मानी रेडियोलॉजिस्ट थीं। बुधवार को वह अवकाश पर थीं।

दोपहर में पति और बच्चे घर से बाहर थे। तभी उन्होंने खुदकशी कर ली। करीब एक बजे पड़ोसी ने किसी काम से उनका दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। अनहोनी की आशंका होने पर उन्होंने पुलिस को सूचना दी। नॉर्थ एवेन्यू थाना पुलिस ने सुसाइड नोट बरामद कर शव को पोस्टमार्टम के लिए आरएमएल अस्पताल भेज दिया है।

तीनों डॉक्टरों के खिलाफ जांच कर रही थीं डॉ. पूनम वोहरा

पुलिस के अनुसार, डॉ. पूनम वोहरा ने अंदर से दरवाजा बंद कर लिया था। सुसाइड नोट में उन्होंने जिन तीन डॉक्टरों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। इनमें दो पुरुष व एक महिला डॉक्टर शामिल हैं। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि डॉ. पूनम उक्त तीनों डॉक्टरों के खिलाफ किसी मामले की जांच कर रही थीं।

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस