नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। शालीमार बाग इलाके में महिला कांस्टेबल से दो बदमाशो ने पर्स झपट लिया। वारदात के बाद दोनों फरार हो गए। इस बाबत मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने एक नाबालिग समेत दो आरोपित को दबोचा है। नेहा गर्ग शाहदरा इलाके में परिवार के साथ रहती हैं। वे हैदरपुर स्थित दिल्ली पुलिस के साइबर सेल आफिस में तैनात हैं।

वे बृहस्पतिवार को ड्यूटी समाप्त कर पैदल ही हैदरपुर मेट्रो स्टेशन की तरफ जा रही थीं कि स्कूटी सवार दो लड़के पीछे से पहुंचे और उनका पर्स झपट कर भाग गए। पर्स में मोबाइल फोन व कागजात आदि थे। सूचना मिलने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया और सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया।

इसके आधार पर एक नाबालिग और उसके साथी रामकिशोर को हैदरपुर झुग्गी बस्ती से पकड़ लिया गया। उन्होंने स्कूटी समयपुर बादली इलाके से चोरी की थी। दोनों नशे की लत की पूर्ति करने के लिए वारदात को अंजाम देते थे। उनके पास से झपटा गया पर्स भी बरामद कर लिया गया है। वहीं, एक अन्य मामले में माडल टाउन इलाके में खड़ी कैब में टक्कर मारने पर क्रेटा चालक के पेट में चाकू घोंप दिया गया।

घायल का इलाज शालीमार बाग के मैक्स अस्पताल में किया जा रहा है, जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। इस बाबत माडल टाउन पुलिस ने दो नाबालिग समेत पांच लोगों को पकड़ा है। गौरव परिवार के साथ किंग्सवे कैंप इलाके में रहते हैं। बताया जाता है कि वे शनिवार सुबह पांच बजे क्रेटा कार से अपने मामा के घर से लौट रहे थे। वे माडल टाउन इलाके के सिगरेट वाला बाग स्थित झुग्गी बस्ती के पास से गुजर रहे थे।

सुबह धुंध होने के कारण उनकी क्रेटा कार सड़क पर खड़ी कैब स्विफ्ट डिजायर से टकरा गई। टक्कर की आवाज सुनकर पास की झुग्गी बस्ती के सात- आठ लड़के वहां पहुंच गए। लड़के शराब के नशे में धुत थे। उन्होंने गौरव को पकड़ कर उनकी पिटाई शुरू कर दी। इसी क्रम में एक युवक ने गौरव के पेट में चाकू घोंप दिया।

Edited By: Pradeep Chauhan