नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। रोहिणी इलाके में टिल्लू गैंग के बदमाश दीपक उर्फ राधे की हत्या की साजिश जेल में रची गई थी। रोहिणी जिला स्पेशल स्टाफ पुलिस ने वारदात में शामिल चार बदमाशों को जेल से रिमांड पर लिया है। बदमाश गोगी गैंग से जुड़े हैं। आरोपितों में गन्नौर के रोहित राणा व खेड़ा खुर्द के कपिल मान पूर्व के मामलों में तिहाड़ जेल में बंद हैं। रोहिणी जिले के डीसीपी प्रणव तायल ने बताया कि 11 अक्टूबर की शाम सेक्टर 15 में रहने वाले टिल्लू गैंग से जुड़े दीपक उर्फ राधे की रोहिणी सेक्टर 16 स्थित बाजार में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

वारदात के बाद हमलावर फरार हो गये। इस मामले की जांच एसीपी आपरेशन ब्रह्मजीत सिंह की देखरेख में स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह, एसआइ जगदीश की टीम ने शुरू की। मौके के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज व मुखबिरों से मिली जानकारी के आधार पर वारदात में शामिल रोहिणी सेक्टर-17 के साहिल सोलंकी को गिरफ्तार किया गया। उसने बताया कि वारदात में उसके साथ विजय विहार का रहने वाला नवीन शर्मा भी था। उसने जेल में बंद गोगी गैंग के कपिल मान व रोहित के कहने पर वारदात को अंजाम दिया था। इसके बाद पुलिस ने नवीन को भी दबोच लिया।

वहीं, बाहरी उत्तरी जिले की स्पेशल स्टाफ की टीम ने कुख्यात टिल्लू ताजपुरिया गैंग के दुर्दांत गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान आदर्श नगर के कासिफ अली उर्फ मिशम के रूप में हुई है। आरोपित के पास से एक पिस्टल, दो कट्टे व छह कारतूस बरामद किए गए हैं। आरोपित टिल्लू ताजपुरिया के नाम से लोगों को डरा कर फिरौती वसूलता था।

आरोपित ने पहले पुलिस कर्मी पर हमला कर उसकी पिस्टल छिनने की भी कोशिश की थी। बाहरी-उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त बृजेंद्र सिंह यादव ने बताया कि स्पेशल स्टाफ टीम को आरोपित के इलाके में आने की जानकारी मिली थी। इसके बाद स्पेशल स्टाफ ने जाल बिछाकर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान पता चला कि आरोपित ने वर्ष 2014 में पुलिसकर्मी पर हमला कर उसकी पिस्टल छिनने की कोशिश की थी।

Edited By: Pradeep Chauhan