नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने दक्षिण जिले के मैदानगढ़ी थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर भोजराज सिंह को बुधवार देर रात 11 बजे सेलेक्ट सिटी माल के पास 50 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। सब इंस्पेक्टर की कार की तलाशी लेने पर उससे से 5, 47,350 रुपये का नकद व उसके घर पर छापा मार 1.07 करोड़ रुपये, कुछ दस्तावेज व अन्य सामान बरामद हुए हैं। सब इंस्पेक्टर के पास इतनी बड़ी रकम मिलने का मामला दिनभर महकमे में चर्चा का विषय बना रहा।

सीबीआइ ने उसे कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया है। कई वर्षों में पहली बार ऐसा देखा गया कि एक माह के अंदर दक्षिण दिल्ली के थानों के तीन पुलिसकर्मियों को सीबीआइ रिश्वत लेते गिरफ्तार कर चुकी है। भोजराज शिकायतकर्ता से कोड वर्ड में बात करता था। उसने कहा कि दस किलो मिठाई यानी दस लाख रुपये चाहिए। उक्त रकम कई अधिकारियों को देने पड़ेंगे। रिश्वत प्रकरण में लगातार पुलिसकर्मियों के पकड़े जाने के मामले ने महकमे की छवि धुमिल कर दी है। बताया जा रहा है कि भोजराज मैदानगढ़ी थाने में कई सालों से थानाध्यक्षों के सबसे खास होता था। थाने में आने वाले हर मामले को वही डील करता था।

कुछ समय पहले मैदानगढ़ी में दो पक्षों में झगड़ा के एक मामले में दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया था। उनमें एक पक्ष के शिकायतकर्ता केस में मदद करने व जमानत का विरोध न करने के एवज में भोजराज उससे 10 लाख रिश्वत की मांग कर रहा था। दो लाख पर डील तय हुई थी। जिसमें 50 हजार उसने बुधवार रात देने की मांग की थी। रात करीब 11 बजे भोजराज ने पैसे लेकर सेलेक्ट सिटी माल के पास आने को कहा था। जैसे ही शिकायतकर्ता उसे रुपये दिए, तभी सीबीआइ ने उसे दबोच लिया। इस मामले में जिले के आधा अधिकारियों की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari