नई दिल्ली [जेएनएन]। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने खालिस्तान कमांडो फोर्स के संदिग्ध आतंकी गुरसेवक सिंह उर्फ बाबला को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गुरसेवक के पास से एक पिस्टल बरामद की है। आतंकी गतिविधियों समेत, हत्या और लूट जैसे 75 मामलों में पुलिस को उसकी तलाश थी। 

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए 51 वर्षीय आतंकी के खिलाफ अधिकतर मामले दिल्ली और पंजाब में दर्ज हैं। पुलिस के संयुक्त आयुक्त (क्राइम ब्रांच) प्रवीर रंजन ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि गुरसेवक सिंह बाबला केसीएफ का सदस्य है और पंजाब का रहने वाला है।

रंजन के मुताबिक, वह कुछ महीने पहले पुलिस हिरासत से फरार हो गया था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस की आतंक-रोधी टीम उसकी तलाश में थी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बाबला ने हाल ही में कुछ लूट की वारदात को भी अंजाम दिया है और कई पुलिस टीमें उसे खोज रहीं थीं। कई मामलों में तो उसे घोषित अपराधी मान लिया गया है।

यह भी पढ़ें: पति बना मौलाना, तो पत्नी ने बदला ठिकाना, हिंदू युवक से शादी के लिए मांगा तलाक

पुलिस ने सोमवार रात नेशनल हाइवे 8 पर साउथ दिल्ली के राजोकरी से गुरुसेवक को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच को शहर के बाहरी इलाके में बाबला की गतिविधियों की जानकारी मिली थी। पुलिस को पता लगा था कि वह दिल्ली में कोई अपराध करने की साजिश रच रहा है। खालिस्तान कमांडो फोर्स या केसीएफ एक सिख संगठन है, जो पंजाब राज्य में सक्रिय है। केसीएफ को भारत में हुई कई बड़ी हत्याओं का जिम्मेदार माना जाता है। इसमें 1995 में पंजाब के ततकालीन मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या भी शामिल है।

यह भी पढ़ें: पाक से लौटे सूफियों ने खोले राज, जानें कराची में लापता होने की दास्तां

Posted By: Amit Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप