नई दिल्ली, जागरण संवदादाता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना को रोकने के लिए दिल्ली में किए गए प्रयासों की तारीफ करने पर दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार उत्साहित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिक्रिया पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि यह इतना बड़ा संकट है जो किसी एक सरकार के बस की बात नहीं है। इसमें सभी ने सहयोग दिया है। धार्मिक और राजनीतिक संगठनों ने भी पूरी भूमिका निभाई है।

उन्होंने कहा है कि यह एक सबक है कि कोई भी इस महामारी को अकेले नहीं संभाल सकता है, लेकिन एक साथ आकर हम जीत सकते हैं। दिल्ली में कोरोना को रोकने में दिल्ली सरकार की रणनीति भी काम आई है। जिसमें मरीजों की जान बचाने में बड़ा योगदान प्लाज्मा बैक निभा रहा है। प्लाज्मा बैंक शुरू होने और लोगों को प्लाज्मा दान करने के लिए प्रोत्साहित करने के साथ ही ज्यादा गंभीर मरीज इस थेरेपी से लाभान्वित हो रहे हैं। वहीं जाच में वृद्धि बढ़ाई गई है। आज प्रतिदिन 20 हजार से अधिक लोगों की जाच की जा रही है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में खासतौर से अस्पतालों में बड़ी संख्या में बेड बढ़ाने के साथ बगैर लक्षण और हल्के लक्षण वाले मरीजों के होम आइसोलेशन पर बल दिया गया है। पिछले महीने एंबुलेंस की रिस्पांस टाइम को आधा कर दिया गया है। मरीजों की त्वरित भर्ती प्रक्रिया को लागू किया गया। अस्पताल में कोरोना मरीज के लिए बेड आसानी से उपलब्ध हैं। आइसीयू क्षमता में वृद्धि की गई है। सरकार का लक्ष्य है कि दिल्ली में कम से कम 2 हजार आइसीयू बेड होने चाहिए, अब सरकार इस माह के अंत तक आइसीयू के 700 बेड करने जा रही है।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के ठीक होने की गति बेहद तेज हो गई है। अब तक तकरीबन 80 फीसद मरीज ठीक हो चुके हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस