Move to Jagran APP

मंदिर-मस्जिद और गुरुद्वारा जाएं, बढ़ाएं जनाधार... विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की बैठक में नेताओं को निर्देश

दिल्ली में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं। इसको लेकर कांग्रेस ने तैयारियां शुरू कर दी है। अपनी खोई जमीन पाने के लिए कांग्रेस नेताओं को जनाधार इकट्ठा करने के लिए निर्देश दिया गया है। बैठक में चौतरफा मजबूत बनाने के साथ आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए विचार विमर्श हुआ। पार्टी कार्यकर्ताओं को ऑटो पर पोस्टर चिपकाने के लिए कहा है।

By sanjeev Gupta Edited By: Geetarjun Thu, 11 Jul 2024 12:12 AM (IST)
मंदिर-मस्जिद और गुरुद्वारा जाएं, बढ़ाएं जनाधार... विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की बैठक में नेताओं को निर्देश
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष देवेन्द्र यादव जिला अध्यक्षों के साथ बैठक करते हुए।

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने कहा है कि संगठन को बूथ स्तर पर मजबूत करना होगा। इसके लिए ब्लॉक अध्यक्ष अपनी टीम के साथ हर बूथ पर 10- 10 लोग जोड़ने के लिए काम करें।

उन्होंने कहा कि हर ब्लॉक में स्थानीय मुद्दे जैसे पानी, बिजली, गली, नालियां, जल भराव, डेंगू, प्रदूषण, महंगाई, बेरोजगारी को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी सरकार तथा नगर निगम को कठघरे में खड़ा करें। साथ ही आरडब्लूए, मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, मार्केट एसोसिएशन, सामाजिक संगठनों विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में संपर्क स्थापित करके उनके लोगों को संगठन से जोड़ने का काम करें।

कांग्रेसियों के साथ हुई बैठक

यादव के नेतृत्व में बुधवार को प्रदेश कार्यालय में सभी 14 जिला अध्यक्षों और 42 नवनियुक्त जिला पर्यवेक्षकों की छह घंटे लंबी मैराथन महत्वपूर्ण बैठक हुई। इसमें संगठन को चौतरफा मजबूत बनाने के साथ आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए विचार विमर्श हुआ।

ऑटो पर पोस्टर लगाने को कहा

यादव ने बताया कि विधानसभा चुनाव की रणनीति को धारदार बनाने के लिए 15 जुलाई को प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक होगी। उन्होंने कहा कि सभी जिला अध्यक्ष अपने-अपने क्षेत्रों में शुरुआत में 50-50 ऑटो पर 'हाथ बदलेगा अब दिल्ली में भी हालात' के नारे का पोस्टर लगाएं। उन्होंने कहा कि संगठन में अनुशासनहीनता को बर्दाश्त नही किया जाएगा।

अपनी-अपनी ड्यूटी को बांटें

उन्होंने सभी जिला पर्यवेक्षकों को निर्देश दिया कि वे जिलों की अपनी ड्यूटी को ब्लॉक अनुसार बांट ले और जिला व ब्लाक अध्यक्ष के बीच समन्वय स्थापित करें। ब्लाक व जिला बैठकों में कार्यकर्ताओं की 100 प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित की जाए।

एजेंडे को रखना जरूरी

उन्होंने कहा कि जिला व ब्लॉक की बैठकों में अग्रिम संगठनों, सेल व विभागों के मुखिया सहित पदाधिकारियों की मौजूदगी भी होनी चाहिए। बैठकों में प्रदेश द्वारा दिए गए एजेंडे को रखना जरूरी है। मासिक बैठकों के अलावा ब्लाक अध्यक्ष को क्षेत्रीय मुद्दों पर दो कार्यक्रम प्रदर्शन अथवा प्रभात फेरी, पैदल मार्च भी कर सकते है। उन्होंने कहा कि सभी ब्लाक अध्यक्ष अपनी-अपनी कार्यकारिणी बनाकर प्रदेश कांग्रेस में जमा करें।

बैठक में कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज, पूर्व विधायक विजय लोचव, हरी शंकर गुप्ता, वरिष्ठ नेता चतर सिंह, जिला अध्यक्ष विरेन्द्र कसाना, एडवोकेट दिनेश कुमार मुख्य रूप से मौजूद थे।