नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। वर्ष 2022 की पहली छमाही में प्रस्तावित दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 के लिए राजनीतिक दलों के साथ प्रशासन भी तैयारी तेज कर दी है। इसके मद्देनजर दिल्ली नगर निगमों के चुनाव कराने के लिए दिल्ली के मुख्य सचिव विजय कुमार देव को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के चुनाव आयोग में चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया है। गौरतलब है कि अगले साल की शुरुआत में यूपी समेत 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं और इसके के साथ दिल्ली में दिल्ली नगर निगम के भी चुनाव होंगे।

मुख्य सचिव विजय देव लेंगे स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

मिली जानकारी के मुताबिक, विजय सिंह देव अगले साल अप्रैल से नगर निगमों के चुनाव के लिए दिल्ली के चुनाव आयुक्त बनाए जाएंगे। इसके लिए वह नौकरी से अप्रैल 2022 से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले लेंगे, हालांक, 2023 में  उन्हें सेवानिवृत्त होना था। मिली जानकारी के मुताबिक, विजय सिंह देव का चुनाव आयुक्त का पद छह साल का है। इस तरह 65 साल तक सरकारी सेवा में रहेंगे। इस बारे में उपराज्यपाल की अनुमति पर दिल्ली सरकार ने  आदेश भी जारी कर दिया गया है। इस बारे में जानकारों का कहना है कि केंद्र में मनमाफिक पद न मिल पाने से दिल्ली सरकार में रहने का फैसला लिया है। गौरतलब है कि विजय देव नवंबर, 2018 से दिल्ली के मुख्य सचिव हैं।  उनकी सबसे बड़ी खूबी यह है कि पूर्व मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की तरह दिल्ली सरकार से कोई बड़ा विवाद भी नहीं हुआ है। ऐसे यह खूबी में उनके पक्ष में गई है। 

एमसीडी चुनाव पर देशभर की नजरें

स्थानीय निकाय चुनाव होने के बावजूद दिल्ली नगर निगम चुनाव के परिणाम पर देशभर की निगाहें रहती हैं।दिल्ली में सत्तासीन  आम आदमी पार्टी समेत तीन राजनीतिक दलों के बीच दिल्ली नगर निगम में मुकाबला होना है, लेकिन बसपा, सपा समेत कई क्षेत्रीय दल चुनाव परिणाम को प्रभावित करते हैं। 

Edited By: Jp Yadav