Move to Jagran APP

Delhi: सरकार में चल रही तनातनी के बीच आज नौकरशाहों की कार्यशाला, आपस में बेहतर तालमेल के लिए वर्कशॉप का आयोजन

दिल्ली में सरकार और नौकरशाहों के बीच चल रहे विवाद के बीच आज नौकरशाहों के लिए कामकाज पर कार्यशाला होगी। दिल्ली सरकार को लेकर केंद्र सरकार के अध्यादेश के आने के बाद दिल्ली सरकार में काफी उथलपुथल चल रही है।

By V K ShuklaEdited By: Abhi MalviyaPublished: Fri, 26 May 2023 12:08 AM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 12:08 AM (IST)
दिल्ली सरकार को लेकर केंद्र सरकार के अध्यादेश के आने के बाद दिल्ली सरकार में काफी उथलपुथल चल रही है।

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली में सरकार और नौकरशाहों के बीच चल रहे विवाद के बीच आज नौकरशाहों के लिए कामकाज पर कार्यशाला होगी। दिल्ली सरकार को लेकर केंद्र सरकार के अध्यादेश के आने के बाद दिल्ली सरकार में काफी उथलपुथल चल रही है।

सरकार में एक अलग तरह का माहौल है। नौकरशाहों और चुनी हुई सरकार का आपस में तालमेल नहीं बैठ पा रहा है। ऐसे माहौल में इस कार्यशाला को अहम माना जा रहा है।

मुख्य सचीव रहेंगे मौजूद

दिल्ली सरकार में कार्यरत आईएएस और दानिक्स आदि इस कार्यशाला में शामिल होंगे। विज्ञान भवन में आयोजित होने वाली इस कार्यशाला में उपराज्यपाल वी के सक्सेना का संबाेधन अहम रहेगा। सरकार और नौकरशाहों के बीच विवाद के समाधान पर वह बात रख सकते हैं, अपने सुझाव और सलाह दे सकते हैं। मुख्य सचिव नरेश कुमार भी इस कार्यशाला को संबोधित करेंगे।

तबादला नियुक्ति के अधिकार को लेकर गत 11 मई को सुप्रीम कोर्ट के दिल्ली सरकार के समर्थन में आए फैसले के बाद सरकार में हालात एक दम से बदल गए थे। सरकार ने बड़े स्तर पर नाैकरशाहों को बदलने की योजना बना ली थी।

सेवाएं विभाग के सचिव आशीष मोरे को हटाने को लेकर काफी विवाद हुआ और फिर सतर्कता विभाग के विशेष सचिव वाई वीवीजे राजशेखर को लेकर काफी विवाद हुआ। इसके बाद मुख्य सचिव को हटाने का प्रस्ताव भी सरकार ने एलजी के माध्यम से केंद्र सरकार को भेज दिया।

मगर 19 मई को एकाएक केंद्र सरकार के आए अध्यादेश के बाद से हालात एक दम बदल गए हैं। अंदरूनी तौर पर सरकार और नौकरशाह एक नहीं दिख रहे हैं। ऐसे माहौल में इस कार्यशाला को अहम माना जा रहा है।

जानकारों का कहना है कि इस कार्यशाला का दिल्ली प्रशासन के हालात से कोई देना देना नहीं है, नौकरशाह जनता को किस तरह से जनता को और बेहतर सेवा दे सकें, इस पर कार्यशाला में चर्चा होगी।

रिपोर्ट इनपुट- वी के शुक्ला


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.