Move to Jagran APP

Delhi: कार्यालय में बैठे भाजपा नेता को दो बदमाशों ने गोलियों से भूना, मौत; शरीर पर लगी थी पांच गोलियां

राजधानी दिल्ली में भाजपा नेता सुरेंद्र मटियाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई। भाजपा नेता उस दौरान अपने कार्यालय में बैठे थे। वारदात को बिंदापुर थाना क्षेत्र में दिया गया है। सुरेंद्र भाजपा किसान मोर्चा नजफगढ़ जिला के प्राभारी थे।

By Gautam Kumar MishraEdited By: GeetarjunPublished: Fri, 14 Apr 2023 08:30 PM (IST)Updated: Fri, 14 Apr 2023 10:10 PM (IST)
कार्यालय में बैठे भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, पुलिस ने शव कब्जे में लिया

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कानून-व्यवस्था को लेकर पुलिस के तमाम दावों के बीच बिंदापुर थाना क्षेत्र स्थित मटियाला में भाजपा के वरिष्ठ नेता सुरेंद्र मटियाला की बदमाशों ने उनके कार्यालय में गोली मारकर हत्या कर दी। गोली चलाने के बाद बदमाश पैदल ही मौके से चलते बने।

बिंदापुर थाना पुलिस ने हत्या की धारा में प्राथमिकी कर गोली मारने वाले बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। हत्या किन कारणों से हुई, अभी इसके बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं है। घटना शुक्रवार शाम करीब पांच बजे की है।

ऑफिस में कुर्सी पर बैठे थे

जानकारी के अनुसार, सुरेंद्र मेन मटियाला रोड स्थित अपने कार्यालय में अपने एक स्वजन व कार्यालय सहायक के साथ बैठकर टीवी देख रहे थे। वे कार्यालय में रखी अपनी कुर्सी पर बैठे थे। दोनों अन्य व्यक्ति में एक उनके बाएं तथा दूसरा उनके दाएं बैठा था।

इसी दौरान कार्यालय के मुख्य द्वार पर लगे शीशे के गेट को दो लोगों ने खोला। दरवाजा पूरी तरह न खोलकर इतना ही खोला गया कि बदमाशों के दोनों हाथ व पिस्टल अंदर दाखिल हुए। इसके बाद दोनों बदमाशों ने सुरेंद्र को निशाना बनाते हुए गोलियों की बौछार कर दी।

नेता को लगी पांच गोलियां

करीब पांच गोलियां इन्हें लगी। जब बदमाशों को लगा कि सुरेंद्र ढेर हो गए हैं, दोनों मटियाला चौकी की ओर पैदल ही निकल गए। आशंका है कि इनका कोई साथी पहले ही घटनास्थल से थोड़ी दूर पर मोटरसाइकिल या अन्य वाहन पर होगा, जिसपर ये आए होंगे और वारदात के बाद इसी वाहन से फरार हो गए होंगे।

गोली लगने के बाद घटनास्थल पर सुरेंद्र के साथ मौजूद दोनों लोगों ने खुद को संभाला और स्वजन को जानकारी दी। मौके पर फौरन बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और सुरेंद्र को द्वारका स्थित आकाश अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उधर घटना की जानकारी के बाद घटनास्थल पर पुलिस उपायुक्त सहित तमाम अधिकारी पहुंचे और छानबीन शुरू कर दी। वहीं आकाश अस्पताल में क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में पहुंचने लगे।

किसान मोर्चा के प्रभारी थे सुरेंद्र

सुरेंद्र के पास इन दिनों नजफगढ़ जिला भाजपा में किसान माेर्चा के प्रभारी का दायित्व था। कृषि से जुड़े तमाम मसलों पर विभिन्न मंचों पर वे अपनी बात मजबूती से रखते थे। मटियाला वार्ड की सीट पर वे भाजपा प्रत्याशी के तौर पर अपनी किस्मत भी आजमा चुके थे। क्षेत्रीय सांसद प्रवेश वर्मा से इनके बड़े मजबूत संबंध थे। अपने मिलनसार स्वभाव के कारण क्षेत्र के लोगों में इनकी काफी पकड़ थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.