गाजियाबाद, जेएनएन। इंदिरापुरम के अहिंसा खंड-दो स्थित अंबाजी रेजीडेंसी सोसायटी की नौवीं मंजिल से गिरकर युवक की मौत हो गई। हादसे के वक्त वह गैस पाइप लाइन के जरिए नीचे उतरने की कोशिश कर रहा था। सुरक्षा गार्डों ने उसे घेर लिया था। हादसे से पहले वह एक फ्लैट में चोरी कर चुका था।

पुलिस ने शव के पास से चोरी के गहने, मिर्च पाउडर, गैस गटर, नकली पिस्टल व अन्य सामान बरामद किया है। मौके से बरामद मोबाइल के आधार पर मृतक की शिनाख्त करने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। अंबाजी रेजीडेंसी सोसायटी की नौवीं मंजिल पर सुमित अरी पत्नी रूहानी के साथ रहते हैं। पति-पत्नी नोएडा की अलग-अलग कंपनी में कार्यरत हैं। दोनों की नाइट ड्यूटी है।

बुधवार तड़के सवा चार बजे सुमित पत्नी के साथ फ्लैट पर पहुंचे तो उनके फ्लैट का सारा सामान फैला हुआ था। घर में चोरी हो चुकी थी। उन्होंने पड़ोसी को इसकी जानकारी दी। पड़ोसी ने चोरी की जानकारी गेट पर तैनात सुरक्षा गार्डों को दी। दो सुरक्षा गार्ड और सुपरवाइजर ए-ब्लॉक की ओर भागे। सोसायटी की बाहरी तरफ नौवीं मंजिल पर एक युवक गैस पाइप के सहारे लटका हुआ मिला। युवक पाइप के सहारे उतरने का प्रयास कर रहा था। बंदूक लिए सुरक्षा गार्ड ने युवक को सीढ़ी के रास्ते नीचे उतरने के लिए कहा। इसी दौरान युवक का संतुलन बिगड़ गया। युवक नौवीं मंजिल से नीचे गिर गया। सूचना पर पहुंची पुलिस युवक को पास के एक निजी अस्पताल में ले गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

रसोई की बालकनी से फ्लैट में घुसा
अंबाजी रेजीडेंसी एओए की महासचिव रुचि सपरा ने बताया कि सोसायटी के पड़ोस में खाली प्लॉट है। खाली भूखंड की ओर से अंधेरे का फायदा उठाकर चोर चार दीवारी फांदकर अंदर घुसा। सीढ़ी या लिफ्ट से वह नौवीं मंजिल पर पहुंचा। नौवीं मंजिल पर रसोई की बालकनी के रास्ते चोर सुमित के फ्लैट में पहुंचा। सुमित के यहां चोरी करने के बाद चोर किसी दूसरे फ्लैट में भी चोरी के फिराक में था। इससे पहले सुरक्षाकर्मियों ने उसे घेर लिया। वह नौवीं मंजिल से गिर गया। सुमित ने इंदिरापुरम थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

बचने के लिए रखता था नकली पिस्टल और लाल मिर्च
शव के पास से पुलिस ने चोरी का सामान, चोरी करने में प्रयुक्त कटर, मिर्च पाउडर व नकली पिस्टल बरामद की है। पुलिस का कहना है कि वह पकड़े जाने के दौरान लोगों से बचने के लिए नकली पिस्टल रखता था। आंख में मिर्च डालकर भागने के लिए मिर्च पाउडर भी रखा था। शव के पास से पहचान पत्र नहीं मिला है, जिससे उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है। बरामद मोबाइल से उसकी शिनाख्त करने का प्रयास किया जा रहा है।

लगातार हो रहीं थी चोरियां
पिछले कई दिनों से बंद फ्लैटों में चोरी की वारदातें हो रहीं थी। अंबाजी रेजीडेंसी के आरडब्ल्यूए अध्यक्ष केके सिह का कहना है कि सोसायटी के पास की आशियाना ग्रीन, एग्जोटिका ईस्ट स्क्वायर सोसायटी व अन्य सोसायटी में दस दिनों में पांच चोरियां हो चुकी हैं। कई बार शिकायत के बाद भी अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। सोसाइटी में कुल 16 कैमरे लगे हुए हैं। जिनमें से आठ ही काम कर रहे हैं। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज मांगी है।

 श्लोक कुमार (एसपी सिटी) का कहना है कि पुलिस घायल युवक को अस्पताल ले गई, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज मोबाइल के आधार पर शिनाख्त करने का प्रयास किया जा रहा है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस