नई दिल्ली [बिरंचि सिंह]। दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर बृहस्पतिवार सुबह से अफरातफरी की स्थिति बनी हुई है। आलम यह है कि कोलकाता जाने के लिए कोई फ्लाइट अभी नहीं मिल रही है। यहां से फ्लाइट लेने के लिए कई लोग जयपुर से और लद्दाख से आए हैं। यहां पर न तो टिकट कंफर्म है और न ही इस बाबत यात्रियों को कोई सूचना ही दी जा रही है। आइजीआइ एयरपोर्ट एयर इंडिया के काउंटर पर इन्हें सूचना यही मिल रही है कि तीन जून से पहले कोई विमान कोलकाता नहीं जा रहा है। 

वहीं, काउंटर पर टिकट भी निरस्त नहीं कर रहे हैं। रिफंड की बात भी नहीं कह रहे हैं। यह भी कहा जा रहा है कि जून तक के बाद का टिकट ले लो, लेकिन ऐसा करने को कोई तैयार नहीं हो रहा है। फिलहाल अगले इंतजाम तक यहीं दिल्ली में रहने का ठिकाना भी तलाश रहे हैं। ट्रेन से कोलकाता जाने के इंतजाम में भी लगे हैं।

वहीं, इससे पहले इंदिरा गांधी इंटरनेशनल (आइजीआइ) एयरपोर्ट से घरेलू उड़ानों का संचालन तीसरे दिन राहत भरा रहा। बुधवार को एयरपोर्ट पर 258 उड़ानों का संचालन हुआ। शाम तक कोई भी उड़ान रद नहीं हुई। इससे यात्रियों ने राहत की सांस ली। एयरपोर्ट पर सोमवार से घरेलू उड़ानों की शुरुआत की गई थी। पश्चिम बंगाल और आंध्रप्रदेश के लिए घरेलू उड़ान शुरू होने के पहले दिन विमान नहीं चलने से 82 उड़ानें रद रही थीं। अचानक से विमान रद कर दिए जाने के कारण यात्रियों को काफी दिक्कत हुई थी।

मंगलवार को भी तकनीकी कारणों से 25 उड़ानें रद की गई थीं। एयरपोर्ट के एक अधिकारी ने बताया कि आइजीआइ एयरपोर्ट से बुधवार को 129 उड़ानें विभिन्न शहरों के लिए उड़ीं और इतनी ही आईं। कोई विमान रद नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि शुक्रवार से एयरपोर्ट से पश्चिम बंगाल के लिए भी उड़ानों का संचालन होगा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस