नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने देशभर में एटीएम काटकर लूटपाट करने वाले कुख्यात बदमाश जाहिद को गिरफ्तार किया है। वह फारुख अदबार गिरोह का सदस्य है। आरोपित पर दिल्ली व हरियाणा सहित चेन्नई, ओडिशा और महाराष्ट्र में एटीएम लूटपाट के 33 मुकदमे दर्ज हैं।

पुलिस से बचने के लिए बदल रहा था जगह

स्पेशल सेल के पुलिस उपायुक्त पीएस कुशवाहा ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि फारुख अदबार गिरोह के बदमाश देशभर में एटीएम काटकर लूटपाट कर रहे हैं। यह भी जानकारी मिली थी कि गिरोह का वांछित बदमाश जाहिद पुलिस से बचने के लिए दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में जगह बदलकर रह रहा है।

हाथियार और कारतूस हुए बरामद

वह 16 अक्टूबर को वसंतकुंज इलाके में आने वाला है। इसका पता चलते ही एसीपी ललित मोहन नेगी की टीम ने जाहिद को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी लेने पर उसके पास से हथियार और कारतूस भी बरामद हुए। पूछताछ में पता चला कि आरोपित मूल रूप से हरियाणा के नूंह का रहने वाला है और उसने दिल्ली के जाकिर हुसैन कालेज से बीए तक की पढ़ाई की है। पहली बार गीता काॅलोनी थाना पुलिस ने एटीएम लूटपाट में उसे गिरफ्तार किया था।

2013 से कर रहा चोरी

2013 में उसने साथियों के साथ मिलकर दिल्ली व महाराष्ट्र सहित देश के अन्य राज्यों में ताबड़तोड़ एटीएम लूट की वारदात को अंजाम दिया था। 2017 में ओडिशा पुलिस ने जाहिद को गिरफ्तार किया था। लेकिन 2018 में जेल से जमानत पर रिहा होने के बाद फिर एटीएम लूटना शुरू कर दिया था। 2019 में जाहिद ने नवी मुंबई में लगातार एटीएम लूटपाट की छह वारदात को अंजाम दिया और करीब 32 लाख रुपये लूटे।

वहीं, एक घर से भी 32 लाख रुपये की लूटपाट की थी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरोह के सदस्य पहचान छिपाने के लिए मुंह ढककर एटीएम बूथ में जाते थे या फिर सीसीटीवी कैमरे को स्प्रे पेंट कर ढक देते थे। कई अदालतों ने आरोपित को भगोड़ा भी घोषित कर रखा है।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप