नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली से शिमला घूमने गए छह युवकों द्वारा परवाणू के पास टिप्परा में सोमवार को क्रेन चालक की पीटकर हत्या करने के मामले में युवकों की कार महेंद्रा एक्सयूवी 500 के नंबर के आधार पर कार मालिक की पहचान हो गई है। कार दिल्ली के रहने वाले भारत के नाम पंजीकृत है। दिल्ली की सराय काले खां ट्रांसपोर्ट ऑथोरिटी द्वारा कार का पंजीकरण 27 फरवरी 2013 को किया गया था। वर्तमान में कार का इंश्योरेंस खत्म हो चुका है। कार का इंश्योरेंस 2017 के बाद नहीं कराया गया है।

इधर, आइजीआइ एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग ने एक विदेशी नागरिक और तीन भारतीय नागरिकों को सोने की तस्करी के मामले में पकड़ा है। तीनों के पास से पांच किलो 470 ग्राम सोना बरामद किया गया है। तीनों को अलग-अलग समय पर पकड़ा गया है।

कस्टम विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इस्तांबुल से आ रहे एक ईरानी नागरिक को 18 जनवरी को तीन किलो 515 ग्राम सोने के साथ एयरपोर्ट पर पकड़ा गया। सोना उसकी कमर की पेटी में बांधे बटुए से बरामद हुआ। सोने को उसने 11 टुकड़ों में बटुए में रखा था। पूछताछ में उसने बताया कि पिछली बार भी उसने एक किलो सोने की तस्करी की थी।

दूसरा मामला 19 जनवरी का है। आइजीआइ एयरपोर्ट के टर्मिनल तीन पर एक भारतीय नागरिक को ऐसे मामले में पकड़ा गया। वह दुबई से आ रहा था। उसके सामान की तलाशी लेने पर पता लगा कि उसने सोने की दो रॉड रखी है जिसका वजन एक किलो 255 ग्राम था। उसने उसे आइस क्यूब बनाने वाले मशीन के कंडेंसर में छुपाया था। सूचना के आधार पर उसे पकड़ लिया गया।

तीसरा मामला 19 जनवरी का है। अबू धाबी से आइजीआइ एयरपोर्ट पहुंचे दो भारतीय नागरिकों को पकड़ा गया। उनके पास से 700 ग्राम सोने की छह चेन बरामद हुई। दोनों सोने को चेन के रूप में तस्करी करके ला रहे थे।

तीनों मामलों में पकड़े गए चारों तस्करों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ईरानी नागरिक से इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि पिछली बार उसके द्वारा लाया गया सोना कहां खपाया गया। इसके अलावा गिरफ्तार अन्य तीनों भारतीयों से भी पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस