जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। उत्तरी के बाद अब दक्षिणी निगम ने भी आक्सीजन आन व्हील सेवा की शुरुआत की है। इसके तहत बस में ही 10 मरीजों को आक्सीजन दी जा सकेगी। जरूरत के हिसाब से यह बस प्रतिदिन विभिन्न इलाकों में घूमेगी, जहां पर प्रतिदिन आक्सीजन दी जाएगी। बस के अंदर 10 आक्सीजन कंसंट्रेटर के साथ अन्य तरह के जीवन रक्षक चिकित्सीय उपकरण भी रखे गए हैं। यह बस आपात स्थिति में कोरोना संक्रमित रोगियों को इलाज देने में सक्षम है।

बृहस्पतिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, महापौर अनामिका और पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विजय गोयल, पूर्व महामंत्री रविंद्र गुप्ता की उपस्थिति में इस बस को रवाना किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आदेश गुप्ता ने कहा कि यह अपने आप में अनूठी पहल है, जिसमें चिकित्सीय सुविधाएं रोगी के पास पहुंचेंगी। बस में स्थापित आक्सीजन कंसंट्रेटर की सहायता से आक्सीजन की आवश्यकता वाले रोगियों की मदद हो सकेगी।

उन्होंने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में निगम अच्छा कार्य कर रहे हैं। चाहे अस्पतालों में कोरोना मरीजों का इलाज हो या फिर सफाई और सैनिटाइजेशन का कार्य हो। महापौर अनामिका ने कहा कि निगम का यह अलग तरह का प्रयोग है। यह उन मरीजों के लिए जीवनदायक साबित होगा जो आक्सीजन बेड या सिलेंडर न मिलने की स्थिति में परेशान हो रहे हैं। ऐसे मरीजों को आक्सीजन मिलेगी तो उनकी सेहत में सुधार होगा।