नई दिल्ली/रेवाड़ी (जेएनएन)। दिल्ली से तकरीबन 150 किलोमीटर दूर हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। महेंद्रगढ़ जिले की 19 वर्षीय युवती का अपहरण करके उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। मामले में अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 3 लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि पीड़ित युवती कॉलेज में पढ़ती है।

बेटी के लिए न्याय चाहती हूं 
सामूहिक दुष्कर्म के बाद पीड़िता की मां ने सामने आ कर आपनी बात रखी है। पीड़िता की मां ने कहा, 'मैं अपनी बेटी के लिए न्याय चाहती हूं। पुलिस कोई भी एक्शन नहीं ले रही है।'

कोचिंग के लिए गई थी छात्रा
वारदात उस वक्त हुई जब पीड़िता रेलवे की परीक्षा की कोचिंग के लिए कनीना गई थी। रास्ते में उसी के गांव निवासी पंकज, मनीष व नीशू ने उसे रोक लिया तथा कोचिंग के बारे में पूछने लगे। इस दौरान मनीष ने उसे पीने के लिए पानी दिया। वह पानी पीकर बेहोश हो गई। आरोप है कि तीनों उसे एक खेत में ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया। छात्रा के साथ हैवानियत करने के बाद आरोपी उसे बेहोशी की हालत में बस स्टॉप पर छोड़कर फरार हो गए थे।

अस्पताल में भर्ती
छात्रा ने किसी तरह अपने पिता को घटनाक्रम की जानकारी दी, जिसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे और पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया। परिजनों ने बुधवार रात में ही महिला थाना में तीनों आरोपियों के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराने के बाद तीनों युवकों के खिलाफ जीरो एफआईआर दर्ज कर जांच के लिए मामला कनीना पुलिस को भेज दिया। 

हुड्डा ने मांगा सीएम का इस्तीफा
मामले में कार्रवाई के लिए हरियाणा सरकार सख्त नजर नहीं आ रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा, 'कानून अपना काम करेगा और दोषियों को सजा मिलेगी।' वहीं हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने कहा, 'राज्य में कानून- व्यवस्था पूरी तरह विफल हो चुकी है। सरकार को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।'

दिल्ली में 10 साल की बच्ची से दरिंदगी
वहीं, पूर्वी दिल्ली के मयूर विहार फेज तीन स्थित स्मृति वन पार्क के पास एक दस वर्षीय बच्ची से दरिंदगी का मामला सामने आया है। आरोपी ने बच्ची को बुरी तरह मारा-पीटा और उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद बच्ची को छोड़कर फरार हो गया। देर रात बेहोशी की हालत में बच्ची पार्क के पास फुटपाथ पर मिली। उसे लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल ले जाया गया, लेकिन हालत नाजुक होने के कारण उसे एम्स रेफर किया गया। बच्ची का परिवार कोंडली में रहता है और मजदूरी करता है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में आरोपी की तलाश जारी है।

Posted By: JP Yadav