नई दिल्ली [निहाल सिंह]। इस बार सर्दियों में दिल्ली गैस चेंबर बनेगी या नहीं यह तो कहना मुश्किल हैं, लेकिन एक बात तय है कि दिल्ली रंग बिरंगे फूलों के जरुर महकेंगी। जी-20 शिखर सम्मेलन और दिल्ली की सुंदरता को बढ़ाने के लिए उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) समेत दिल्ली नगर निगम, लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) और दिल्ली विकास प्राधिकरण को इस दिशा में कार्य करने के निर्देश दिए हैं।

अपने निर्देश में उपराज्यपाल ने उन फूलों की प्रजातियों के नाम भी इन एजेंसियों को भेजे हैं और उन्हे लगाने वाले स्थानों की सूची के साथ इस पर प्रगति रिपोर्ट की जानकारी भी मांगी है। राजधानी में अब तक एनडीएमसी इलाके की 101 एवेन्यू रोड पर ऐसे प्रयोग किए जाते थे। सर्दियों में गुनगुनी धूप के बीच लुटियंस दिल्ली से गुजरने वाले लोग इन फूलों की तरफ खासा आकर्षित होते थे।

कई बार लोगों को वाहन रोककर फूलों के साथ सेल्फी लेते हुए भी लोग देखे गए हैं। वहीं, फूलों देखने के बड़ी मात्रा में लोग राष्ट्रपति भवन के मुगल गार्डन भी जाते हैं। यानि दिल्लीवासियों के साथ यहां आने वाले पर्यटक इससे काफी आकर्षित होते हैं। शायद इसलिए उपराज्यपाल ने एजेंसियों को सर्दियों में खिलने और महकने वाले फूलों के पौधे लगाने के लिए कहा है।

चूंकि राजधानी में प्रमुख सड़के पीडब्ल्यूडी के पास हैं ऐसे में सड़कों के किनारे इसको लगाने का कार्य यही विभाग करेगा। वहीं डीडीए अपनी कालोनियों और अपने पार्कों में इन फूलों वाले पौधों को लगाएगा। दिल्ली नगर निगम भी इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। एमसीडी भी मुख्य पार्कों से लेकर कालोनी पार्कों और फ्लाइओवर के नीचे इन पौधों को लगाने की तैयारी कर रहे हैं। दिल्ली में पीडब्ल्यूडी करीब 1400 किलोमीटर सड़कों का रखरखाव करता है जबकि एमसीडी के पास 15 हजार से अधिक 5500 एकड़ भूमि वाले पार्क हैं।

कर्तव्य पथ के लिए विशेष तरह की तैयारी कर रहा है एनडीएमसी

कर्तव्य पथ के सुंदरीकरण के बाद यहां पर पर्यटकों की संख्या बढ़ गई है। ऐसे में कर्तव्य पथ और इंडिया गेट के आस-पास रंग बिरंगे फूल पौधे लगाए जाएंगे। साथ ही कर्तव्य पथ के लान में वर्टिकल फ्लावर लगाए जाएंगे। इसमें एनडीएमसी की तैयारी बासकेट में फूलों वाले पौधें लगाने के साथ छह से सात फिट ऊंचे दिल और अन्य आकृर्तिं में पौधे लगाए जाएंगे। जिन में रंग बिरंगे फूल खिलेंगे तो अलग ही तरह से आकर्षित करेंगे।

इन फूलों के पौधे लगाए जाएंगे

  • कोसमोस
  • फ्लोक्स
  • पोपी
  • बर्बीना
  • डहेलिया और अन्य

कब किया जाएगा बीजारोपण

15 अक्टूबर से लेकर 10 नंवबर तक इन पौधों का बीजारोपण किया जा सकता है। ऐसे में यह पौधे जनवरी 15 तक अच्छी तरह से फूल देने लायक हो जाते हैं। जो कि अप्रैल के अंतिम माह चलते हैं। वहीं, टूलिप के पौधे विदेश मंगाए जाते हैं जिन्हें जमीन में गाड़ा जाता है।

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan