नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। देशभर में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर चल रहा विरोध प्रदर्शन अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले दिनों जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी में हुई पुलिस और छात्रों की झड़प के बाद से बेशक दिल्ली एनसीआर मेट्रो स्टेशन बाधित ना हो रहा हो, लेकिन पिछले 13 दिनों से शाहीन बाग से नोएडा, फरीदाबाद एवं ग्रेट नोएडा जाने वाले रास्तों को दिल्ली पुलिस ने बंद किया हुआ है। यहां पर लगातार प्रदर्शनकारी प्रदर्शन कर रहे हैं। जिससे लोगों को आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है। क्राउन प्लाजा के पास से ही दिल्ली पुलिस ने बैरिकेड लगाए हुए हैं। इसके बावजूद भी काफी संख्या में लोग यातायात नियमों को ताक पर रखते हुए उसी रास्ते से जाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन अपने प्रयास में ज्यादातर लोग असफल होने के बाद प्रत्येक दिन नए-नए रास्ते खोजने की तिगड़म लगा रहे हैं।

जनता ने खोजे ये तरीके

शाहीन बाग की तरफ जाने वाला रास्ता बंद होने के चलते लोगों के पास एक ही रास्ता बचता है और वह है डीएनडी। ज्यादातर लोग अपने दफ्तर पहुंचने के लिए इस रास्ते का उपयोग कर रहे हैं, लेकिन लोगों को यहां घंटों जाम का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में दूसरी तरफ कई लोग मेट्रो पार्किंग में अपनी गाड़ी लगा कर अपने दफ्तर या कार्यक्षेत्र पहुंच रहे हैं। वहीं कुछ लोग बदरपुर और जैतपुर से आने वाले रास्ते का उपयोग कर रहे हैं। इस रास्ते में भी लोगों को घंटों जाम का सामना करना पड़ा रहा है। कुल मिलाकर लोगों को एक घंटे के सफर में 2 घंटे का समय लग रहा है। एक तरफ प्रदर्शनकारी अपने विरोध प्रदर्शन से ठस से मस नहीं हो रहे हैं तो दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस ने शहीन बाग की तरफ से जाने वाले सभी रास्तों को बंद किया हुआ है ताकी वहां पर किसी भी प्रकार की हिंसा न भड़के।   

क्या है लोगों को कहना 

मदनपुर खादर गांव निवासी राज कौशिक ने बताया कि सुबह पांच बजे से ही रात दो बजे तक गांव में हर ओर वाहन ही वाहन फंसे दिखाई देते हैं। गांव के लोगों को बाहर निकलने में एक घंटे से ज्यादा का समय लग जाता है। उन्होंने बताया कि मदनपुर खादर गांव के पास आगरा कैनाल पर बने पुल को पार करने वाले वाहनों के कारण लगा जाम यहां पर जाम लगता है। 

क्या है पुलिस का कहना 

दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त चिन्मय बिश्वाल  ने कहा कि शाहीन बाग में चल रहे धरने के कारण लोगों को हो रही परेशानी से निजात दिलाने के लिए स्थानीय लोगों से भी बात की जा रही है कि वे धरने से उठ जाएं। इसके लिए हम लोग इलाके के प्रमुख लोगों से बातचीत कर मामला सुलझाने का प्रयास कर रहे हैं। मंगलवार और बुधवार को भी हमने लोगों को समझाया साथ ही उन्होंने बताया कि इस मार्ग के बंद होने के कारण मथुरा रोड, डीएनडी, रिंग रोड और आउटर रिंग रोड पर पड़ने वाले यातायात के अतिरिक्त दबाव के मद्देनजर इन इलाकों में अतिरिक्त यातायात पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। समस्या का समाधान जल्द ही निकाल लिया जाएगा।

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस