नई दिल्ली जागरण संवाददाता। दयालपुर इलाके में सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता के पति की घर में घुसकर हत्या करने वाले दोनों आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों की पहचान कृष्णा नगर निवासी राहुल शर्मा और करावल नगर निवासी साहिल के रूप में हुई है। मृतक की पत्नी ने आरोप लगाया था कि उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले आरोपितों ने उनके पति की हत्या की है। जबकि पुलिस का कहना है इस हत्याकांड का सामूहिक दुष्कर्म से कोई लेना-देना नहीं है। महिला के पति ने राहुल से ब्याज पर तीन लाख रुपये उधार लिए हुए थे, वह रकम वापस नहीं कर रहा था। राहुल उत्तराखंड में एक नेता का निजी सुरक्षाकर्मी है, उसने लाइसेंसी हथियार से गोली मारकर हत्या की।

जिला पुलिस उपायुक्त संजय कुमार सेन ने बताया कि शनिवार रात 12:56 बजे चांद बाग इलाके में एक शख्स को गोली लगने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक की पत्नी ने पुलिस को बताया कि वह पहले अपने पति के साथ ट्रानिका थाना क्षेत्र में रहती थी, इसी वर्ष कई के महीने में चार लोगों ने उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया था, जबकि तीन फरार चल रहे हैं। केस वापस लेने के लिए आरोपित परिवार पर लगातार दबाव बना रहे थे और धमकियां दे रहे हैं। महिला ने कुछ आरोपितों के नाम भी बताए।

पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो उसमें दो हमलावर दिखाई दिए, पहचान होने पर पुलिस ने दोनों को बृजपुरी के पास से गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों ने बताया कि मृतक ट्रोनिका सिटी थाना क्षेत्र में हेरोइन बेचता था, वह दोनों उससे हेरोइन खरीदते थे। मृतक ने राहुल से तीन लाख रुपये उधार लिए थे, राहुल उससे रकम वापस मांग रहा था। महिला और उसका पति ट्रानिका सिटी थाना क्षेत्र स्थित अपना घर छोड़कर फरार हो गए थे और दयालपुर में रहने लगे। आरोपितों ने उनके नए घर का पता निकाला और शनिवार रात को वहां पहुंचे। राहुल अपनी रकम मांगने लगा, महिला के पति ने देने से इन्कार कर दिया। इतना सुनते ही उसने गोली मार दी।

Edited By: Prateek Kumar