नई दिल्ली/नारनौल, जेएनएन। अश्लील सीडी प्रकरण में पलवल पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए आरोपित केशव संघी ने पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में अपील जमानत अर्जी दायर की है। शुक्रवार को सुनवाई दाैरान पलवल पुलिस ने इस बाबत कोर्ट के समक्ष रिपोर्ट पेश की। कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद जमानत अर्जी खारिज कर दी।

इस मामले में पलवल पुलिस ने किशन चौधरी, केशव संघी व सुरेंद्र चौधरी को गिरफ्तारी का नोटिस भेजा था। तीनों ने गिरफ्तारी से बचने के लिए लोवर कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी डाली लेकिन सेंशन जज सरिता गुप्ता ने सुनवाई के बाद उनकी अर्जी को खारिज कर दी।

केशव संघी ने लोवर कोर्ट के इस आदेश के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील याचिका दायर की। मंगलवार को हाई कोर्ट में इस मामले की सुनवाई हुई थी। कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुना और पुलिस से इस मामले में रिपोर्ट तलब की। कोर्ट ने बहस को जारी रखते हुए इस मामले में शुक्रवार को फिर सुनवाई की। कोर्ट के समक्ष पलवल पुलिस ने रिपोर्ट पेश की। सुनवाई के बाद कोर्ट ने केशव संघी की जमानत अर्जी खारिज कर दी।

यह है मामला

अश्लील सीडी प्रकरण को लेकर चर्चाओं में आए हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन गोपालशरण गर्ग ने अपने पद से त्याग पत्र दे दिया है। गोपालशरण गर्ग के भाई हेतराम गर्ग की अर्जी पर पलवल पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। जांच के बाद पुलिस ने किशन चौधरी, सुरेंद्र चौधरी व केशव संघी को गिरफ्तारी नोटिस दिया। जबकि साक्ष्यों के आधार गोपालशरण गर्ग के चालक राजकुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने इस मामले में किशन चौधरी के एकाउंटेंट संदीप से भी पूछताछ की ओर कोर्ट में उसके बयान दर्ज करवाएं। पुलिस ने नारनौल में आकर कई स्थानों पर जाकर इस मामले में छानबीन की है।

Posted By: JP Yadav