नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। राजधानी में बैंक की सहायक प्रबंधक के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। पीड़ित युवती उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के एक सरकारी बैंक में कार्यरत है। उसके साथ आटो चालक ने छेड़छाड़ किया। बचाव के क्रम में वह चलते आटो से कूद पड़ी। इससे उसे हल्की चोटें आई हैं। पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर लिया है। पुलिस पीड़ित के दिए गए आटो के नंबर से आटो मालिक से पूछताछ कर रही है। पुलिस ने कर्दमपुरी निवासी आरोपित आटो चालक गोपाल को सोमवार देर रात गिरफ्तार कर उससे पीड़िता का मोबाइल कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, 23 वर्षीय पीड़ित युवती शाहदरा इलाके में परिवार के साथ रहती हैं। दो सप्ताह पहले कोरोना से संक्रमित होने के चलते वह छुट्टी लेकर घर आई थी। कोरोना से ठीक होने के बाद वह सोमवार को वापस मथुरा जा रही थी। उसकी ट्रेन निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से थी।

सुबह वह आटो से बैठी थी। जब आटो चालक आइजीआइ स्टेडियम के पास पहुंचा तो चालक ने वहां पर लघु शंका जाने के लिए आटो को रोक लिया। उसके बाद आटो चालक ने युवती के साथ छेड़छाड़ की। जब मदद के लिए पीड़िता ने शोर मचाया तो आरोपित ने आटो में डंडा होने की बात कहकर उसे मारने की धमकी दी। उसके बाद युवती ने चलते आटो से कूदकर जान बचाई। आटो में युवती का बैग और मोबाइल था।

मां ने नोट कर लिया था आटो का नंबर : पीड़िता की मां ने आटो में बिठाते समय आटो का नंबर नोट कर लिया था। आटो की फोटो भी खींच ली थी। ऐसे में पुलिस उस नंबर से आटो मालिक तक पहुंची। पुलिस ने उससे पूछताछ भी किया है।

Edited By: Prateek Kumar