नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन के बीच इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट (आइजीआइ) पर कार्गो उडानों का संचालन बदस्तूर जारी है। एयरपोर्ट पर वर्तमान में रोजाना करीब 22 कार्गो उड़ानों का संचालन किया जा रहा है। वहीं विदेश से लाए गए मेडिकल उपकरण और सामानों को बाद में दिल्ली-एनसीआर सहित देश के अन्य हिस्सों में पहुचाया जा रहा है।

एयरपोर्ट कोरोना के इलाज से जुड़े सामान की आपूर्ति का हब बन गया है। इन सामानों के रखरखाव के लिए आइजीआइ पर अलग से वेयर हाउस भी बनाया गया है। इस काम में एयरपोर्ट कर्मी, कस्टम सहित तमाम विभागों के अधिकारी 24 घंटे लगे हुए है। कोरोना की रोकथाम के लिए लॉक डाउन की घोषणा कर बाद देश में 25 मार्च से यात्री और कार्गो उड़ानो को निलंबित कर दिया गया है। लेकिन कोरोना से बचाव से संबंधित सामानों के लिए एयरपोर्ट से लगातार कार्गो और विशेष उड़ानों का संचालन किया जा रहा है।

दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) प्रवक्ता ने बताया कि एयरपोर्ट से प्रति दिन करीब 22 विशेष कार्गो उड़ाने दोहा, पेरिस, हांगकांग, शेन्•ोन शंघाई और इंचियोन इत्यादि जगहों से आ जा रहीं हैं। इनसे मास्क, दवाएं और मेडिकल सामान जैसे उपकरण, परीक्षण किट इत्यादि लाए जा रहे हैं। इस काम मे कार्गो कर्मी सहित सीआईएसएफ, ग्राउंड हैंड¨लग, कस्टम और एयरलाइंस कर्मी जुटे हुए है। विशेष विमानों से अब तक 19 लाख मास्क, सैनिटाइजर की 2 लाख बोतलें, 1.5 लाख पीपीई किट और 50,000 अन्य चिकित्सा उपकरण अब तक भारत लाए जा चुके है।

इन सामानों को बद में एयर इंडिया और भारतीय वायु सेना के विमान से उत्तर पूर्व के दूर दराज के क्षेत्र मणिपुर, नागालैंड और इम्फाल और दीमापुर सहित मुंबई, बैंगलुरु, विजयवाड़ा, कोचीन, हैदराबाद जैसे अन्य शहरों में भेजा जा रहा है।

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस