Move to Jagran APP

Singhu Border Murder Case: जज के सामने आरोपित निहंगों का कबूलनामा, 'हां हमने ही मारा लखबीर को'

Singhu Border Murder सोनीपत जिला अदालत में पेश तीनों निहंग आरोपितों ने साफ-साफ बताया कि वे ही पंजाब के दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या में शामिल थे। आरोपितों ने तर्क दिया है कि सभी को अपने धर्म की रक्षा का अधिकार है।

By Jp YadavEdited By: Published: Mon, 18 Oct 2021 08:01 AM (IST)Updated: Mon, 18 Oct 2021 08:42 AM (IST)
Singhu Border Murder Case: जज के सामने निहंगों का कबूलनामा, 'हां हमने ही मारा लखबीर को'

नई दिल्ली/सोनीपत, जागरण संवाददाता। दिल्ली-एनसीआर के कुंडली बार्डर (सिंघु बार्डर) पर पंजाब के दलित युवक की बेरहमी से की गई हत्या के मामले में अब पूरी स्थिति धीरे-धीरे साफ होती जा रही है। रविवार को सोनीपत की जिला अदालत में सिविल जज जूनियर डिवीजन किन्नी सिंगला की कोर्ट में पेशी के दौरान अपना अपराध बिना झिझक के स्वीकार कर लिया। 

सोनीपत जिला अदालत में पेश तीनों निहंग आरोपितों ने साफ-साफ बताया कि वे ही पंजाब के दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या में शामिल थे। आरोपितों ने तर्क दिया है कि सभी को अपने धर्म की रक्षा का अधिकार है। धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी होगी तो हम शांत नहीं बैठेंगे। इसके बाद कोर्ट ने आरोपितों को 6 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया। बता दें कि सोनीपत पुलिस ने तो तीनों आरोपितों का 14 दिन का रिमांड मांगा था, लेकिन कोर्ट ने इन्हें छह दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया है।

आरोपित का कबूलनामा, कुल 8 लोग थे हत्या में शामिल

युवक की हत्या के मामले में शुक्रवार शाम को ही आत्मसमर्पण करने वाले आरोपित सरबजीत सिंह ने शनिवार को कोर्ट में कहा था कि हत्या में वे आठ लोग शामिल थे, जिनमें से वह तीन के नाम जानता है, जबकि बाकी को चेहरे से पहचानता है।

सरबजीत ने काटा था हाथ, नारायण सिंह ने पैर

निहंग नारायण सिंह ने कोर्ट को बताया कि लखबीर की हत्या में वे चार लोग शामिल थे। सरबजीत ने उसका हाथ काटा था और मैंने पैर। वहीं, भगवंत सिंह व गोविंद प्रीत ने उसको रस्सियों से बांधकर लटकाया था। उसकी हत्या में हमारे अलावा अन्य कोई शामिल नहीं है। सरबजीत ने पुलिस को एक तलवार सौंपते हुए बताया कि इसी से हत्या हुई है। लेकिन, पुलिस जांच में सामने आया कि उस तलवार से हत्या नहीं हुई थी। उसने हत्या में प्रयुक्त तलवार को छिपा दिया था।

गौरतलब है कि सिंघु बार्डर (कुंडली बार्डर) पर बृहस्पतिवार रात को पंजाब के तरनतारन के गांव चीमा खुर्द निवासी लखबीर सिंह की नृशंस हत्या कर दी गई थी। बेरहमी से की गई हत्या के दौरान युवक लखबीर सिंह के हाथ-पैर काटने के साथ ही उसके शरीर को तलवारों व भालों से गोदा गया। इसके बाद उसको पहले पैर बांधकर उलटा लटकाया गया था। उसकी हत्या करके आरोपितों ने शव को चौराहे पर लाकर पुलिस बैरिकेड पर लटका दिया था। हत्या की जिम्मेदारी निहंगों ने ली थी। उन्होंने हत्या के फोटो और वीडियो बनाकर वायरल किए थे। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.