नई दिल्ली (जेएनएन)। अभी अप्रैल का महीना है, लेकिन गर्म हवा ने राजधानी दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में ले लिया है। राजस्थान की ओर से आ रही गर्म हवा ने मुश्किलें और बढ़ा दी हैं। यही कारण है कि इस बार 16 अप्रैल को पिछले छह वर्षों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान तो सबसे ज्यादा रहा ही, रविवार की सुबह भी इस सीजन की सबसे गर्म सुबह रही।

रविवार को पालम क्षेत्र में अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रिज क्षेत्र में अधिकतम तापमान 41.0 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान 24.0 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग ने औसत अधिकतम तापमान सामान्य से 3 डिग्री अधिक 39.8 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य स्तर पर 21.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया।

नमी का स्तर अधिकतम 63 और न्यूनतम 24 फीसद रिकॉर्ड किया गया। मौसम विज्ञानियों के अनुसार शुक्रवार तक तापमान में कमी के कोई आसार नहीं हैं। सप्ताहांत में मौसम करवट ले सकता है। जहां तक सोमवार का पूर्वानुमान है, आसमान साफ रहेगा। अधिकतम तापमान 41 डिग्री और न्यूनतम 22 डिग्री रहने के आसार है।

धूल कणों ने बढ़ाया एनसीआर का वायु प्रदूषण

राजस्थान की ओर से चल रही गर्म हवा में धूल कणों की मात्रा अधिक होने से दिल्ली-एनसीआर का वायु प्रदूषण रविवार को खतरनाक स्तर तक पहुंच गया। सोमवार को भी एनसीआर में प्रदूषण का स्तर खतरनाक रहने की संभावना है।

केंद्र सरकार की संस्था सफर इंडिया की मानें तो रविवार को सड़क से उड़ने वाली धूल में भी सूक्ष्म कणों का स्तर अधिक था। वाहनों के धुएं से निकलने वाले अतिसूक्ष्म कणों की मात्र भी बहुत खराब स्तर पर रिकार्ड की गई। सड़कों से उड़ने वाली धूल और वाहनों से निकलने वाले सूक्ष्म कणों का स्तर ज्यादा होने से दिन भर धूल वाला वातावरण बना रहा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस