नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। आक्सीजन की कमी से कोरोना मरीजों की मौत को लेकर भाजपा ने दिल्ली सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि एक तरफ अरविंद केजरीवाल सरकार हाई कोर्ट में खुद कह रही है कि आक्सीजन की कमी से दिल्ली में कोई मौत नहीं हुई है। दूसरी ओर इसके मंत्री बेबुनियाद बयान दे रहे हैं।

केंद्र को नहीं भेजी सूचना

दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि दिल्ली सरकार ने आक्सीजन की कमी से किसी की मौत को लेकर कभी कोई सूचना केंद्र सरकार को नहीं भेजी है। हाई कोर्ट में भी यही कहा कि जयपुर गोल्डन अस्पताल में आक्सीजन की कमी से मौतें नहीं हुई। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) केंद्र सरकार द्वारा राज्यसभा में दी गई जानकारी को तोड़मरोड़ कर पेश कर रही है।

राज्य सरकार की समिति ने आक्सीजन की कमी से मौत को किया इन्कार

केंद्र सरकार ने कहा है कि कोरोना से हुई मौत के बारे में राज्य सरकारें और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा उसे सूचना उपलब्ध कराई जाती है। किसी राज्य सरकार या केंद्र शासित प्रदेश से आक्सीजन की कमी से हुई मौत को रिपोर्ट नहीं दी गई है।  उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की समिति ने भी आक्सीजन की कमी से किसी की मौत से इन्कार किया है।

जयपुर गोल्डन अस्पताल में मौत पर कहा यहां नहीं मिले सुबूत

जयपुर गोल्डन अस्पताल में 21 लोगों की मौत के मामले में समिति की रिपोर्ट हाई कोर्ट में पेश की गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आक्सीजन की कमी से मौत होने के कोई सुबूत नहीं मिले हैं। मरने वाले मरीज दूसरी बीमारियों से पीड़ित थे। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने आक्सीजन की कमी से हुई मौत पर मृतक के परिजनों को पांच-पांच लाख मुआवजा देने का एलान किया था। अब इन मृतकों की जानकारी नहीं जुटाने के लिए केंद्र सरकार पर दोष डाल रही है।