Move to Jagran APP

15वां टॉय बिज़ इंटरनेशनल दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित

वर्ष 2014 में 96 मिलियन डॉलर का निर्यात करने वाला भारत अब 326 मिलियन डॉलर के खिलौने विश्व भर में निर्यात कर रहा है। इस अद्भुत प्रगति के कारण 2 बिलियन डॉलर का भारतीय खिलौना बाजार 2030 तक 5 बिलियन डॉलर तक पहुंचने की ओर अग्रसर है। यह सफलता न केवल भारतीय कारीगरों की मेहनत का परिणाम है बल्कि मेक इन इंडिया अभियान की शक्ति का प्रतीक भी है।

By Jagran News Edited By: Anurag Mishra Wed, 10 Jul 2024 10:25 PM (IST)
प्रगति मैदान में 6 से 9 जुलाई तक 15वां टॉय बिज़ इंटरनेशनल B2B एक्सपो 2024 का आयोजन किया गया।

 नई दिल्ली। दिल्ली के प्रगति मैदान में 6 से 9 जुलाई तक 15वां टॉय बिज़ इंटरनेशनल B2B एक्सपो 2024 का आयोजन किया गया।फेयर के आख़िरी दिन केंद्रीय कपड़ा मंत्री  गिरिराज सिंह और वाणिज्य राज्य मंत्री जितिन प्रसाद उपस्थित हुए।

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री  गिरिराज सिंह ने कहा कि, यह कार्यक्रम भारतीय खिलौना कारीगरों को एक वैश्विक मंच प्रदान कर उनकी मेहनत और कला को सराहना दिला रहा है। माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत का खिलौना बाजार अद्वितीय ऊंचाइयों को छू रहा है। वर्ष 2014 में 96 मिलियन डॉलर का निर्यात करने वाला भारत अब 326 मिलियन डॉलर के खिलौने विश्व भर में निर्यात कर रहा है। इस अद्भुत प्रगति के कारण, 2 बिलियन डॉलर का भारतीय खिलौना बाजार 2030 तक 5 बिलियन डॉलर तक पहुंचने की ओर अग्रसर है। यह सफलता न केवल भारतीय कारीगरों की मेहनत का परिणाम है, बल्कि 'मेक इन इंडिया' अभियान की शक्ति का प्रतीक भी है।

केंद्रीय राज्य मंत्री प्रसाद ने भी देश के खिलौना उद्यमियों की प्रशंसा की । उन्होंने आश्वासन दिया कि खिलौना उद्योग को प्रधानमंत्री मोदी जी में नेतृत्व वाली सरकार में हर संभव सहयोग और सहायता दी जाएगी जिससे व्यापारी अधिक से अधिक निर्यात कर सकें।

टॉयज एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा दिल्ली के प्रगति मैदान में करीब 400 से अधिक निर्माता अपने प्रोडक्ट्स की प्रदर्शनी लगाई। टॉय एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने बताया कि इस एक्सपो में केवल भारतीय खिलौना निर्माता ही भाग ले रहे हैं। मेले में करीब 35 देशों के खरीददार शामिल हुए। चार दिन तक चले एक्सपो में खिलौना उद्योग से जुड़े व्यापारियों, एक्सपोर्ट हाउस, कॉर्पोरेट ख़रीदार, रिटेल चेन स्टोर आदि इस एक्सपो में 8 हजार से जयादा ख़रीददार पहुँचे।

खिलौना उद्यमी संयम छाबड़ा ने बताया कि देश में खिलौना व्यापार बढ़ाने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार को जाता है। सरकार में स्टाल लगाने में सब्सिडी दे रही है, जिससे वैश्विक स्तर पर कारोबार पहुंचाने में मदद मिल सकेगी।