जागरण संवाददाता, बाहरी दिल्ली : बाहरी उत्तरी जिला स्पेशल स्टाफ पुलिस ने शनिवार को मुठभेड़ के बाद कुख्यात जितेंद्र गोगी गैंग के बदमाश को गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान हरियाणा के सोनीपत के सोहटी गांव निवासी हैप्पी के रूप में हुई है। उसने पुलिस से बचने के लिए गोलियां भी चलाई। ऐसे में पुलिस की जवाबी फायरिग में उसके पैर में गोली लगी, जिससे वह घायल हो गया। उसे अस्तपाल में भर्ती कराया गया। पुलिस को हाल में ही खेड़ा खुर्द में हुई रवि नाम के युवक की हत्या में तलाश थी।

जानकारी के अनुसार, स्पेशल स्टाफ को सूचना मिली कि शनिवार की सुबह गोगी गैंग का बदमाश बवाना इलाके में आने वाला है। ऐसे में एसीपी ऑपरेशन रिक्षपाल की निगरानी में इंस्पेक्टर अजय कुमार के नेतृत्व में एसआइ जयवीर, हवलदार अरुण, सिपाही हनुमान, मनोज आदि की टीम बनाई गई। पुलिस टीम पहले से ही बरवाला रोड पर पहुंचकर घेराबंदी शुरु कर दी। तभी हैप्पी बाइक से आता हुआ दिखाई दिया तो पुलिस टीम ने उसे रुकने का इशारा किया, लेकिन उसने पुलिस कर्मियों पर फायरिग शुरु कर दी और मौके से भागने की कोशिश करने लगा। उसकी फायरिग में एक सिपाही बाल-बाल बच गया। ऐसे में पुलिस ने भी जवाब में गोली चलाई, जो हैप्पी के पैर में लगी और उसे दबोच लिया गया। पुलिस ने उसके पास से पिस्टल, कारतूस आदि बरामद किए। उसके पास से मिली बाइक प्रशांत विहार से चोरी की निकली। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हैप्पी करीब तीन वारदातों में शामिल है। जिसमें पिछले ही हफ्ते खेड़ा खुर्द इलाके में रवि नाम के युवक की हत्या भी शामिल है।

पूछताछ में पता चला कि रवि गोगी के खिलाफ गवाही देने वाला था, जिसके चलते उसकी हत्या की गई थी। रवि की हत्या में लूटी हुई कार का इस्तेमाल किया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस