जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली: यमुना रिवर बेड में घोंडा गुजरान और सोनिया विहार में प्रस्तावित लैंडफिल साइट को लेकर विधायक कपिल मिश्रा ने बृहस्पतिवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल व पूर्वी निगम आयुक्त डॉ. रणबीर ¨सह से मुलाकात की। उन्होंने लैंडफिल साइट से होने वाले नुकसान के 14 ¨बदुओं को उनके समक्ष रखकर इस प्रस्ताव को रद करने की मांग की।

मिश्रा ने कहा कि प्रस्तावित क्षेत्र वजीराबाद पौंड से जुड़ा है, जहां से पूरे शहर को पानी की आपूर्ति होती है। चारों तरफ स्कूल, डिस्पेंसरी, नर्सिंग होम और मंदिर मस्जिद हैं। डीडीए के मास्टर प्लान, म्यूनिसिपल ठोस कचरा प्रबंधन, ग्राउंड वाटर एक्ट, एनजीटी के निर्देश और रिजर्व फॉरेस्ट एरिया क्षेत्र होने के कारण यहां लैंडफिल साइट बनाई ही नहीं जा सकती है। यहां लैंडफिल साइट बनने से ¨जदगी खतरे में पड़ जाएगी। इसलिए इस प्रस्ताव पर तुरंत रोक लगाएं।

.......... खजूरी चौक पर दिया धरना जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली: प्रस्तावित लैंडफिल साइट के विरोध में दूसरे दिन बृहस्पतिवार को भी प्रदर्शन जारी रहा। पहले दिन कांग्रेस व भाजपा ने धरना दिया था और दूसरे दिन कांग्रेस व आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता खजूरी चौक पर धरने पर बैठे।

खजूरी चौक पर धरने का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता मुदित अग्रवाल ने आरोप लगाया कि भाजपा व आप की मिलीभगत से इस प्रोजेक्ट को मंजूरी मिली है और वही अब विरोध का ढोंग कर रहे हैं। भजनपुरा की पूर्व निगम पार्षद रेखा रानी ने कहा कि धरना से पहले आसपास के इलाके में रैली निकालकर लोगों को भी नुकसान के बारे में बताया गया। किसी भी सूरत में यहां लैंडफिल साइट नहीं बनने दी जाएगी।

धरने में पूर्व विधायक सुरेंद्र पाल ¨सह बिट्टू, ईश्वर बागड़ी विजेंद्र प्रधान, चौधरी बेगराज, प्रवेश चौधरी, ताज मोहम्मद, गुड्डी देवी, अनिल गौतम, सरोज मिश्रा, वेदप्रकाश बेदी सुरेंद्र पांचाल, प्रवेश शर्मा, जमशेद खान सहित उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के कई कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हुए। आप ने कहा, एनजीटी में करेंगे अपील

धरने के दौरान आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडेय ने कहा कि जमीन डीडीए ने दी है, जो केंद्र के पास है। इसके बावजूद सांसद मनोज तिवारी इसके लिए दिल्ली सरकार को दोषी ठहरा रहे हैं। लैंडफिल साइट के विरोध में आप एनजीटी में अपील दायर करेगी और इलाके में हस्ताक्षर अभियान चलाएगी। इस मौके पर विधायक हाजी इशराक खान, निगम में नेता प्रतिपक्ष अब्दुल रहमान, पार्षद मनोज त्यागी, कुलदीप, ताहिर हुसैन, विमलेश आदि मौजूद रहे।

......

विरोध की राजनीति छोड़ विकल्प का सुझाव दें : विनोद चौधरी

जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व मनोनीत पार्षद एवं टॉयलेट व नालियों की सफाई के लिए कई बार अभियान चला चुके विनोद चौधरी ने कहा कि प्रस्तावित लैंडफिल साइट का दिल्ली की तीनों ही प्रमुख पार्टियां विरोध कर रही हैं। लेकिन, कोई यह बताने को तैयार नहीं है कि रोजाना सैकड़ों टन निकलने वाला कूड़ा कहां जाएगा। इस मसले पर सिर्फ विरोध की राजनीति न करके विकल्प सुझाने पर ध्यान देना चाहिए।

By Jagran