राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली :

किसान संसद के लिए देश भर से आए किसान आज जंतर मंतर पर एकत्रित होंगे। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले दो दिनों के लिए रविवार से ही किसानों का जमावड़ा होने लगा। किसान अपने उत्पाद के लिए बेहतर कीमतों और कर्ज से पूरी आजादी की माग करेंगे। प्रदर्शन में करीब 180 किसान संगठनों के सदस्यों के भाग लेने की उम्मीद है। अखिल भारतीय किसान सभा के अध्यक्ष अशोक धावले के अनुसार उनकी मुख्य माग सही कीमत आकलन के साथ वैध हक के तौर पर पूर्ण लाभकारी कीमतें और उत्पादन लागत पर कम से कम 50 फीसदी का लाभ अनुपात पाना है। स्वराज अभियान के प्रमुख योगेंद्र यादव के अनुसार जंतर मंतर पर किसान फौरन व्यापक कर्ज माफी सहित कर्ज से मुक्ति व साविधिक संस्थागत तंत्र स्थापित किए जाने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में लागत और आमदनी के बीच असंतुलन की वजह ईंधन, कीटनाशक, उर्वरक और यहा तक कि पानी सहित लागत की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। किसान संसद में दो मागों के साथ एक मसौदा विधेयक भी पेश किया जाएगा और उस पर किसान संसद चर्चा कर उसे पारित करेगी।

Posted By: Jagran