नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो । पर्यावरण संरक्षण की दिशा में एक कदम बढ़ाते हुए रेल मंत्रालय ने यात्रियों के लिए हरित प्रतीक्षालय बनाने का ऐलान किया है। मंत्रालय का कहना कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर यात्री प्रतीक्षालय को पर्यावरण अनुकूल बनाया जाएगा। इसे हरित प्रतीक्षालय का नाम दिया गया है।

इसके लिए प्लेटफॉर्म की छतों पर सोलर पैनल लगाए जाएंगे। यात्रियों को स्वच्छ व ठंडा पानी उपलब्ध कराने के लिए आरओ सिस्टम भी लगेगा। यह सभी काम कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (कॉनकोर) लिमिटेड द्वारा कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व (सीएसआर) के तहत किया जाएगा। प्रतीक्षालय को पर्यावरण के अनुकूल बनाने के लिए इसमें एलईडी बल्ब लगाए जाएंगे जिससे कि बिजली की खपत में कमी आए। इस स्टेशन के सभी रिटायरिंग रूम और डोरमेटरी को भी नया रूप दिया जाएगा।


नई दिल्ली रेलवे स्टेशन राजधानी का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है। अधिकांश राजधानी व शताब्दी एक्सप्रेस का परिचालन इसी स्टेशन से होता है। रोजाना यहां लगभग पांच लाख यात्री पहुंचते हैं जिन्हें बेहतर यात्री सुविधाएं उपलब्ध कराना रेल प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है। इसे आसान बनाने के लिए कॉनकोर ने भी हाथ बढ़ाया है और बुधवार को रेल मंत्री की मौजूदगी में सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया गया है।


यात्रियों को शुद्ध पानी मिले इसके लिए स्टेशन पर पांच आरओ सिस्टम लगाए जाएंगे। अजमेरी गेट की तरफ शौचालय बनेंगे। विकलांग यात्रियों की सुविधा के लिए संकेत चिह्न लगाने के साथ ही प्लेटफॉर्म नंबर चार व पांच तथा प्लेटफॉर्म नंबर छह व सात पर विशेष बूथ बनाने की योजना है। इसमें इनकी सुविधा का पूरा ख्याल रखा जाएगा जिससे कि ट्रेन की प्रतीक्षा करने के दौरान उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं हो।


Posted By: Ramesh Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस