नई दिल्ली/साहिबाबाद, जागरण संवाददाता। दिल्ली-यूपी बार्डर पर यूपी गेट पर एनएच 9 फ्लाईओवर के ऊपर दिल्ली पुलिस ने बृहस्पतिवार को फिर से बैरिकेड लगाने का काम शुरू कर दिया। कुछ दिन पहले ही दिल्ली पुलिस ने बैरिकेडिंग को हटाया था। दिल्ली पुलिस की एक टीम बृहस्पतिवार की शाम को क्रेन और कुछ कर्मचारियों के साथ वहां पर पहुंची और बैरिकेड लगाकर रास्ते को बंद करने का काम शुरू कर दिया।

मालूम हो कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के धरना प्रदर्शन को 26 नवंबर को एक साल का समय पूरा हो रहा है। इस मौके पर किसानों ने दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने का ऐलान किया था। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ही एक बार फिर दिल्ली पुलिस ने दिल्ली की तरफ जाने वाली सड़क को बंद कर दिया है। हालांकि अभी एक लेयर पर बैरिकेटिंग नहीं लगाई है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से लगातार बड़े-बड़े पत्थर रखे जा रहे हैं।


दिल्ली पुलिस ने एहतियात के मद्देनजर यहां पर रैपिड एक्शन फोर्स की कुछ टीमें भी तैनात कर दी हैं जिससे किसी तरह के उपद्रव होने की संभावना न रहे। एनएच-9 पर इस तरह से बैरिकेड लगा दिए जाने से वाहन चालक इसका इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। यहां एक तरफ किसानों ने अपने टेंट लगा रखे हैं जिसकी वजह से नोएडा, इंदिरापुरम, मेरठ, हापुड़ और अन्य जगहों से आने वाले वाहन चालक इस रास्ते का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं।


इस रास्ते को खोले जाने को लेकर नोएडा निवासी एक महिला ने हाई कोर्ट में भी केस फाइल किया है। उनका कहना है कि किसानों के धरना प्रदर्शन की वजह से उनको आधे घंटे का सफर तय करने में डेढ़ से दो घंटे का समय लग जाता है। जब एनएचएएआइ ने इस रास्ते को चौड़ा किया था तो ये उम्मीद जगी थी कि अब दिल्ली की दूरी अधिक नहीं रह जाएगी मगर किसानों ने बीते एक साल से ये दूरी और बढ़ा दी है। हजारों वाहन चालक रोजाना जाम से परेशान होते हैं।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari