नई दिल्ली/गुरुग्राम/नोएडा/सोनीपत, जागरण डिजिटल डेस्क। दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में एक ओर रावण दहन की तैयारी जारी थी, तो वहीं बुधवार दोपहर में कुछ जगहों बारिश भी होने लगी। धीमी बारिश का यह सिलसिला कई घंटे तक जारी रहा। इसके चलते रावण दहन पर भी संकट हो गया, कई जगहों पर रावण के पुतले गीले हो गए और उन्हें जलाया नहीं जा सका।

ट्रैक पर गिर गया पेड़, ट्रेन परिचालन हुआ बाधित

उधर, बारिश और तेज आंधी के चलते हापुड़ के पिलखुवा में रेलवे ट्रैक पर पेड़ गिर गया। इसके चलते राजधानी समेत कई ट्रेनों का आवगमन कुछ देर के लिए बाधित रहा। ट्रेनों को हापुड़ में रोका गया। वहीं, ट्रैक सामान्य होते ही इनका परिचालन शुरू कर दिया गया।

आंधी-बारिश बनी ट्रेन यात्रियों के लिए आफत

जागरण संवाददाता के मुताबिक, बुधवार दोपहर बाद पिलखुवा रेलवे स्टेशन पर वर्षा के साथ आईं तेज आंधी के कारण एक पेड़ टूटकर रेलवे ट्रैक पर गिर गया। इसके चलते कई ट्रेनें आसपास के स्टेशनों पर रोकी गईं। हापुड़ स्टेशन पर राजधानी एक्सप्रेस भी ट्रेन रोकी गई, लेकिन कुछ देर बाद ही ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो गया।

प्रदूषण से राहत के आसार 

दिल्ली के अलावा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा और नोएडा के साथ गाजियाबाद में भी हल्की बारिश हुई। बारिश का सिलसिला इसी तरह जारी रहा तो दिल्ली-एनसीआर के वायु प्रदूषण के स्तर में कमी आ सकती है। 

यहां पर बता दें किभारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, आगामी पांच दिनों के दौरान बूंदाबांदी से लेकर हल्की बारिश की संभावना जताई गई है। 

बारिश से भीग गए रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले

दिल्ली और एनसीआर के कुछ इलाकों में बारिश के चलते रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले भीग गए हैं। ऐसे में बारिश का दौर जारी रहा तो रावण दहन प्रक्रिया में बाधा पड़ेगी। कहा जा रहा है कि बारिश का यह दौर बुधवार देर शाम तक जारी रह सकता है, जिससे रावण दहन में खलल पड़ सकता है। 

गौरतलब है कि मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक ही बुधवार सुबह से ही दिल्ली-एनसीआर में मौसम करवट ले चुका है। बुधवार सुबह से दिल्ली-एनसीआर के आसमान में बादल छाए हुए हैं और कुछ इलाकों में बारिश हो रही है। 

गर्मी से राहत मिलने के आसार

मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में लगातार पांच दिन तक बादल छाए रहने का पूर्वानुमान है। इस दौरान बीच-बीच में कभी तो कभी तेज बरसात भी होगी। इसके चलते अधिकतम एवं न्यूनतम दोनों तापमान में गिरावट आएगी। गर्मी से भी राहत मिलेगी। 

रविवार तक ऐसा ही रहेगा मौसम का मिजाज

मौसम विभाग के अनुसार, आगामी रविवार तक मौसम में यह बदलाव बना रहेगा। यानी कि रोजाना बादल छाए रह सकते हैं और बारिश होने के आसार हैं। इससे दिल्ली-एनसीआर के तापमान में गिरावट आएगी और सात सितंबर को अधिकतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। आगामी आठ अक्टूबर तक मौसम सुहाना बना रहेगा।

Edited By: Jp Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट