जागरण संवाददाता, पश्चिमी दिल्ली : कीर्तिनगर थाना पुलिस ने झपटमारी व लूट की कई वारदात में संलिप्त एक महिला समेत दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। महिला आरोपी पुलिस व लोगों को चकमा देने के लिए पुरुष के कपड़े पहनती थी ताकि उसकी पहचान न हो पाए। आरोपियों की गिरफ्तारी से पुलिस ने नौ मामलों के सुलझने का दावा किया है। पुलिस को आरोपियों के पास से एक कट्टा, करीब दो लाख रुपये के आभूषण, दो कीमती घड़ी व कई अन्य चीजें बरामद हुई हैं। पुलिस ने आरोपियों के पास से पल्सर मोटरसाइकिल भी बरामद कर ली है जिस पर सवार होकर आरोपी वारदात को अंजाम देते थे। आरोपियों की पहचान रमनीक ¨सह (23) व नांगलोई निवासी रानी (परिवर्तित नाम) (32) के रूप में हुई है।

कीर्तिनगर थाना के एसएचओ अनिल शर्मा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज एकत्रित करना शुरू किया। पुलिस के अनुसार करीब 39 फुटेज ऐसे मिले, जिसमें आरोपी नजर आए। इसके अलावा पुलिस को यह भी पता चला कि ये बदमाश पल्सर एनएस मॉडल का इस्तेमाल वारदात के दौरान करते हैं। पुलिस टीम ने इस मॉडल के मोटरसाइकिल के बारे में पता करना शुरू किया। पुलिस के अनुसार दिल्ली में करीब 2700 मोटरसाइकिल इस मॉडल की पाई गईं। इनमें से 139 मोटरसाइकिल पश्चिमी दिल्ली क्षेत्र की थीं। इसके बाद पुलिस ने तमाम संदिग्धों को थाना बुलाया और पूछताछ शुरू की गई। इस दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी रमनीक वारदात को अंजाम देने क्षेत्र में आने वाला है। पुलिस ने कीर्तिनगर इलाके से ही रमनीक को दबोच लिया। पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि उसकी साथी का नाम रानी है। इससे पहले की रानी तक पुलिस पहुंचती उसे इसकी भनक लग चुकी थी और वह अपनी सहेली के घर भाग गई। पुलिस ने रानी को उसकी सहेली के घर से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में रानी ने बताया कि वह लोगों को चकमा देने के लिए मोटरसाइकिल के पीछे अपना वेश बदलकर बैठती थी। वह पुरुषों के जैसे कपड़े पहनती थी। लोगों को उसके बाल नजर नहीं आए इसके लिए वह टोपी लगाती थी। इसके अलावा बड़े फ्रेम का चश्मा लगाती थी ताकि उसके चेहरे का ज्यादातर हिस्सा नजर न आए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस