नई दिल्ली । टिकट खिड़की से खरीदा गया प्लेटफॉर्म टिकट दो घंटे तक मान्य होता है। मोबाइल वाले टिकट पर भी यही नियम लागू होगा। यात्री रेलवे स्टेशन से 15 मीटर दूर तक पेपरलेस प्लेटफॉर्म टिकट खरीद सकते हैं।

वहीं, इसका दुरुपयोग न हो इसके लिए उन्हें रेलवे स्टेशन से कम से कम दो मीटर दूर रहकर यह खरीदना होगा। यानी स्टेशन के अंदर जाने के बाद ऑनलाइन प्लेटफॉर्म टिकट नहीं खरीदा जा सकता है। वहीं, एक बार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म टिकट खरीदने के बाद उसे रद नहीं किया जा सकता है।

पढ़े : लाइन में लगने का झंझट खत्म, मोबाइल एप से लें प्लेटफॉर्म टिकट

दिल्ली तथा हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को प्लेटफॉर्म टिकट खरीदने के लिए लाइन में लगने की जरूरत नहीं है। वह अपने स्मार्ट फोन से प्लेटफॉर्म टिकट कर सकते हैैं। इसी तरह से नई दिल्ली-पलवल रूट के दैनिक यात्री सीजन टिकट भी मोबाइल पर खरीद सकेंगे। यह सुविधा शुक्रवार से शुरू हो गई है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल भवन से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इस सेवा की शुरुआत की।

17 वर्ष से कम उम्र वाले नहीं ले सकेंगे ऑनलाइन सीजन टिकट
नई दिल्ली से पलवल रूट पर यात्री ऑनलाइन सीजन टिकट ले सकते हैं, लेकिन इसके लिए उनकी उम्र 17 वर्ष या इससे ज्यादा होनी चाहिए। टिकट जारी होने के अगले दिन से यह वैध होगा। ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और सीजन टिकट खरीदने के लिए यात्री को अपने स्मार्ट फोन पर यूटीएएस ऑन मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करना होगा। पिछले महीने ही दिल्ली-पलवल रूट पर अनारक्षित टिकट के लिए यह एप लांच किया गया है। टिकट का ब्यौरा यात्री के मोबाइल पर आ जाएगा जिसे वह जांच के लिए दिखा सकता है।

आइओएस मोबाइल पर भी जान सकेंगे ट्रेन की स्थिति
एपल मोबाइल का उपयोग करने वाले भी ट्रेनों की स्थिति की जानकारी अपने मोबाइल पर जान सकते हैं। इसके लिए आइओएस प्लेटफॉर्म आरंभ किया गया है।

Posted By: Ramesh Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस