जासं, नई दिल्ली : अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलीकॉप्टर खरीद घोटाले में दिल्ली की विशेष अदालत ने दुबई स्थित दो फर्म के निदेशक की याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया है। 3,600 करोड़ रुपये के घोटाले में दुबई स्थित फर्म यूएचवाई सक्सेना और मैट्रिक्स होल्डिंग्स के निदेशक राजीव सक्सेना ने याचिका में अपने खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट को निरस्त करने की मांग की है।

विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने कहा कि वह आरोपी और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का पक्ष सुनने के बाद अपील पर फैसला देंगे। ईडी ने आरोप लगाया है कि मामले की जांच में राजीव सक्सेना सहयोग नहीं कर रहे हैं। ईडी के वकील ने कहा कि मामले की जांच जून 2016 से चल रही है, सक्सेना को जांच में सहयोग के लिए कई बार समन भेजा गया, लेकिन वह सहयोग नहीं कर रहे हैं। आरोप है कि कई फर्मो से घोटाले का पैसा दुबई की इन कंपनियों में गया।

Posted By: Jagran