Move to Jagran APP

Rakesh Tikait Attacked: राकेश टिकैत पर हमले के बाद दिल्ली के बॉर्डरों पर किसान हुए उग्र, टैक्टर ट्रॉली लेकर लगाया जाम

भाकियू नेता राकेश टिकैत की गाड़ी पर राजस्थान के अलवर में हुए हमले के विरोध में शुक्रवार देर दिल्ली के विभिन्न बॉर्डर पर बैठे किसान आक्रोशित हो गए।पहले गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने जाम लगा दिया। शाम को कुंडली बार्डर पर बैठे आंदोलनकारियों ने केएमपी एक्सप्रेस-वे को जाम कर दिया।

By Prateek KumarEdited By: Published: Fri, 02 Apr 2021 08:53 PM (IST)Updated: Sat, 03 Apr 2021 06:44 AM (IST)
शुक्रवार देर दिल्ली के विभिन्न बॉर्डर पर बैठे किसान आक्रोशित हो गए।

नई दिल्ली,सोनीपत, नोएडा, टीम जागरण। भाकियू नेता राकेश टिकैत की गाड़ी पर राजस्थान के अलवर में हुए हमले के विरोध में शुक्रवार देर दिल्ली के विभिन्न बॉर्डर पर बैठे किसान आक्रोशित हो गए। सबसे पहले गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने जाम लगा दिया। वहीं इसके कुछ समय बाद ही शाम को कुंडली बार्डर पर बैठे आंदोलनकारियों ने केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) एक्सप्रेस-वे को जाम कर दिया। रात होते होते चिल्ला बॉर्डर पर किसानों ने भी जाम लगा कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। केएमपी पर हालांकि, करीब 20 मिनट बाद ही संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने आंदोलनकारियों को वहां से वापस बुला लिया और इसके बारे में बाद में बैठक कर कोई निर्णय लेने की बात कही। दूसरी ओर, राकेश टिकैत ने भी संदेश जारी कर आंदोलनकारियों को शांत रहने को कहा है।

कहां हुआ हमला

राजस्थान के अलवर जिले में शुक्रवार को राकेश टिकैत की गाड़ी पर हमला हो गया था। इसकी सूचना कुंडली बार्डर पर बैठे आंदोलनकारियों तक पहुंची तो वे आक्रोशित हो गए और शाम करीब पौने सात बजे ट्रैक्टर लेकर कुंडली के पास केएमपी पर चढ़ गए और जाम लगा दिया। अचानक जाम लगाने से केएमपी पर वाहनों की कतार लग गई।

यूपी गेट  का हाल

इधर साहिबाबाद संवाददाता के अनुसार तीनों कृषि कानूनों के विरोध में 28 नवंबर से यूपी गेट पर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ की दिल्ली से आने वाली लेन को बंद कर दिया। उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर राजस्थान के अलवर जिले में हमला होने का आरोप लगाया। उन्हें सुरक्षा देने की मांग की। करीब एक घंटे बाद प्रदर्शनकारियों ने यह रास्ता खोला। इस दौरान लंबा जाम लग गया। राहगीरों को काफी परेशानी हुई।

सरकार पर लगा आंदोलन कुचलने का आरोप

यूपी गेट पर दिल्ली जाने वाली सभी लेन बंद हैं। सिर्फ राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ की दिल्ली से आने वाली लेन खुली है। शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे प्रदर्शनकारियों ने इस लेन को भी बंद कर दिया। उन्होंने राकेश टिकैत पर हमला होने का आरोप लगाया। केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सूचना पर अपर जिलाधिकारी नगर शैलेंद्र सिंह, पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। भाकियू के राष्ट्रीय प्रेस प्रभारी शमशेर राणा ने बताया कि अधिकारियों ने राकेश टिकैत को सुरक्षा देने का आश्वासन दिया। उसके बाद शाम साढ़े छह बजे दिल्ली से आने वाली लेन खोल दी गई। वहीं, संयुक्त किसान मोर्चा गाजीपुर के प्रवक्ता जगतार सिंह बाजवा ने कहा कि सरकार आंदोलन को कुचलना चाहती है, लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं।

इडीएम माॅल के पास लगा जाम

अचानक हाईवे बंद हो जाने से फ्लाईओवर पर भयंकर जाम लग गया। वाहन चालक फंस गए। इस दौरान हादसे की भी संभावना बनी। दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर से ही रूट डायवर्जन कर दिया। वाहनों को अन्य सीमाओं से गुजारा गया। इसका दुष्प्रभाव यह रहा कि खोड़ा, ईडीएम माल सीमा पर भी जाम लग गया।

यह है चिल्ला बाॅर्डर का हाल

किसानों के धरने पर बैठने के चलते नोएडा-दिल्ली (चिल्ला मार्ग) पूरी तरह से बंद है। नोएडा यातायात पुलिस को मार्ग पर डायवर्जन लागू करना पड़ा है। सेक्टर-14ए नोएडा-दिल्ली लिंक रोड होते हुए दिल्ली जाने वाले वाहन चालकों को डीएनडी के रास्ते अपने गंतव्य की ओर जाना पड़ रहा है। वहीं, दिल्ली से आने वाले रास्ता भी बंद है। इससे डीएनडी टोल से फिल्म सिटी फ्लाईओवर तक जाम लगा है। वाहन चालकों को परेशान की सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक जाम सेक्टर-95 स्थित महामाया फ्लाईओवर व फिल्म सिटी के पास लगा है। वहीं, चिल्ला मार्ग बंद होने से कालिंदी कुंज पर भी यातायात का दबाव बढ़ा है। वहीं, धरने पर बैठे किसान नेताओं को उठाने के लिए नोएडा पुलिस की ओर से प्रयास किया जा रहा है। वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि किसान नेताओं से बातचीत चल रही है। कुछ ही देर में रास्ते को खुलवा लिया जाएगा।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.