नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के अंतिम दिन आज वैसे तो वैट संशोधित विधेयक पर चर्चा की जानी है, मगर इस अंतिम दिन भी दिल्ली सरकार के निशाने पर उपरायपाल नजीब जंग रहेंगे। जंग को लेकर सरकार के तेवर तीखे हैं।

केजरीवाल को मिला बॉलीवुड एक्टर का साथ, कहा-'BJP से बेहतर AAP'

उन्हें घेरने के लिए सदन में क्या क्या मुद्दे आएंगे और कौन-कौन उन्हें उठाएगा, इस पूरी रणनीति तैयार हो चुकी है। इस मसले पर रणनीति कुछ ऐसी है कि विधायक माहौल गरमाएंगे और अंत में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गर्म हो चुके लोहे पर चोट करेंगे। कुछ इस तरह का नजारा आज दिल्ली विधानसभा में दिखाई देगा।

केंद्र को लेकर गुस्से में बैठे आप विधायक, मंत्री और मुख्यमंत्री का सीधा निशाना एलजी बनेंगे। सूत्रों के अनुसार विधानसभा की कार्यवाही संपन्न होने के बाद भी सरकार सार्वजनिक रूप से एलजी से जुड़े मुद्दे उठाने को लेकर आक्रामक रहेगी।

जनता से जुड़े जिन मुद्दों से संबंधित फाइलें एलजी के पास भेजी गई थीं और इन्हें स्वीकृति नहीं मिली है, उनके बारे में भी सरकार जनता के बीच जाकर बात करेगी। जहां तक विधानसभा सदन की बात है तो ये मुद्दे आज प्रमुख रहेंगे।

इसमें आप पार्षद की पिटाई के चार दिन बाद भी मुकदमा दर्ज ना होना भी एक मुद्दा रहेगा। बृहस्पतिवार को दिल्ली नगर निगमों के रामलीला मैदान में हुए संयुक्त सदन के दौरान पुरानी दिल्ली के कूचा पंडित वार्ड से आप के निगम पार्षद राकेश कुमार की पिटाई कर दी गई थी।

इस मामले में चार दिन बाद भी दिल्ली पुलिस ने एफआइआर दर्ज नहीं की है, जबकि आप लिखित रूप से भाजपा के पार्षदों पर मारपीट का आरोप लगा रही है। न्याय की मांग को लेकर मुख्यमंत्री शुक्रवार को कुछ विधायकों को साथ लेकर राष्ट्रपति से मिल चुके हैं।

आप का आरोप है कि पुलिस को मुकदमा दर्ज नहीं करने के एलजी साहेब के आदेश हैं। मुकदमा दर्ज नहीं होने के विरोध में पुलिस की कार्यप्रणाली के साथ-साथ एलजी के खिलाफ फिर से सदन में कोई प्रस्ताव पास हो सकता है।

प्रीमियम बस सेवा को लेकर भी एलजी पर होगा निशाना

प्रीमियम बस योजना जिस तरह से खटाई में पड़ गई है, इसे लेकर सरकार बहुत नाराज है। उल्टे इस मामले की जांच भी एसीबी ने शुरू कर दी है। परिहवन आयुक्त को जांच के तहत बुलाकर एसीबी पूछताछ कर चुकी है। माना जा रहा है कि सोमवार को ये मुद्दे भी सदन में गूंजेंगे।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस