नई दिल्ली [राहुल चौहान]। दिल्ली के जंतर-मंतर पर लगातार दूसरे दिन शुक्रवार को कृषि कानून विरोधी आंदोलनकारियों के प्रदर्शन के चलते लोगों को दूसरे दिन भी जाम का सामना करना पड़ा। दरअसल, प्रदर्शन के चलते पुलिस द्वारा मध्य दिल्ली में जंतर-मंतर के आस-पास कई रास्ते बंद किए गए हैं। इससे मध्य दिल्ली से गुजरने वाले लोगों को जाम का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही पुलिस द्वारा प्रदर्शन के चलते जगह-जगह बैरीकेडिंग लगाकर की जा रही वाहनों की निगरानी भी इस जाम का कारण बनी। बैरीकेडिंग के चलते गति धीमी होने से मार्गों पर वाहनों का दबाव अधिक रहा।

इन इलाकों में रहा जाम का असर

सुबह के समय विकास मार्ग, दीन दयाल उपाध्याय मार्ग, आइटीओ चौक, बहादुरशाह जफर मार्ग, मथुरा रोड, डीएनडी, आश्रम चौक, सराय कालेखां, नेताजी सुभाष मार्ग, टालस्टाय मार्ग, अशोक रोड, रिंग रोड, कश्मीरी गेट इलाके, आनंद विहार, गाजीपुर मुर्गा मंडी रोड, जनपथ रोड, राजीव चौक गोल चक्कर, कनाट प्लेस और इंडिया गेट के आस-पास के इलाकों में मुख्य रूप से लंबे जाम का सामना करना पड़ा।

जाम के कारण परेशान रहे वाहन चालक

जाम से परेशान होने के चलते वाहन चालक प्रदर्शनकारियों से खासे नाराज दिखाई दिए। इसी तरह शाम के समय आइटीओ चौक पर भयंकर जाम लगने से विकास मार्ग पर कड़कड़ी मोड़, मिंटो रोड, दीन दयाल उपाध्याय मार्ग, बहादुरशाह जफर मार्ग सहित अन्य मार्गों पर दो से तीन किलोमीटर लंबा जाम लग गया।

मिनटों की दूरी तय करने में लगा घंटों का समय

इससे वाहन चालकों को मिनटों की दूरी तय करने में घंटों का समय लगा। बता दें कि गणतंत्र दिवस पर कृषि कानून विरोधी आंदोलन की आड़ में किए गए उपद्रव के चलते इस बार पुलिस अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। इसके चलते लाल किला जाने वाले प्रमुख मार्गों सहित पुरानी दिल्ली के भी कई इलाकों में पुलिस ने बैरीकेडिंग लगाकर वाहनों की जांच की। इसके साथ ही इससे दिल्ली गेट, दरियागंज, चांदनी चौक और राजघाट रोड पर भी लोगों को जाम का सामना करना पड़ा।

Edited By: Prateek Kumar