नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली में कोरोना की रफ्तार नहीं थम रही है। बीते 24 घंटे में कोरोना 17,364 नए संक्रमित मिले। वहीं करीब 20 हजार से ज्यादा लोग ठीक भी हुए हैं। हालांकि कोरोना को लेकर जारी चिंता यह है कि मौत का आंकड़ा कम नहीं हो रहा है। एक बार फिर 300 से ज्यादा लोग इस बीमारी की चपेट में आकर दम तोड़ दिए हैं। आंकड़ों की बात करें तो नए कोरोना संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वाले हैं, क्योंकि 17,364 नए केस मिले तो 20,160 मरीज ठीक भी हुए हैं। 332 लोग इस बीमारी के आगे दम तोड़ दिए है जो प्रशासन के लिए अब भी चुनौती बना हुआ है।

मौत के आंकड़ों से चिंता

सीएम इस बात को लेकर काफी चिंता दिखा चुके हैं कि हर संक्रमित को जल्द से जल्द इलाज मिले ताकि किसी की मौत ना हो।  कुल संक्रमितों की बात करें तो 13,10,231 थे जिसमें से 12,03,253 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं अभी तक मरने वालों की संख्या 19,071 है। प्रदेश में एक्टिव केसों की बात की जाए तो 87,907 है।

एनसीआर से भी आ रहे लोग

बता दें कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें प्रतिमाह 80 से 85 लाख से भी थोड़ी ज्यादा वैक्सीन की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि जैसा कि पूरे एनसीआर क्षेत्र गुड़गांव, फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद समेत आसपास के क्षेत्रों से लोग वैक्सीन लगवाने के लिए दिल्ली आ रहे हैं। इसलिए हमें थोड़ी ज्यादा ही वैक्सीन की जरूरत पड़ेगी, लेकिन कम से कम हमें 80 से 85 लाख वैक्सीन प्रतिमाह जरूरत पड़ेगी ही।

वैक्सीनेशन पर जोर

मेरी केंद्र सरकार से निवेदन है कि हमको उचित मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध कराई जाए। पिछले कुछ दिनों से हम अखबारों में भी पढ़ रहे हैं कि प्रधानमंत्री प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने एक तरह से चेतावनी दी है कि कोरोना की तीसरी लहर भी आ सकती है। उसके ऊपर सुप्रीम कोर्ट ने भी अपनी चिंता जाहिर की और लोग भी बड़े चिंतित हैं कि पहली लहर के बाद यह दूसरी लहर तो इतनी ज्यादा खतरनाक है कि अगर तीसरी लहर भी इसी तरह की रही, तो पता नहीं क्या होगा? इसलिए तीसरी लहर से भी हमें अपने आप को बचाने के लिए वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है। अगर हमने पूरी दिल्ली को वैक्सीनेशन कर लिया, तो यही एक चीज है कि जो हमें तीसरी लहर से बचा सकती है, यही एक सुरक्षा चक्र है, जो अपने को तीसरी लहर से बचा सकता है। उस दिशा में ‘आप’की दिल्ली सरकार का काम कर रही है। जैसे केंद्र सरकार अभी तक मदद करती आई है, हमें पूरी उम्मीद है कि केंद्र सरकार इसमें भी मदद करेगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप