नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। CBSE 12th Result 2020: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 12वीं के परीक्षा परिणाम में दिल्ली के प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुशी जताई है। मंगलवार दोपहर डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारे दिल्ली के बच्चों ने कमाल करके दिखा दिया। दिल्ली में सरकारी स्कूलों के नतीजे 97.87 फीसद हैं, जो सबसे अच्छे हैं, वहीं, प्राइवेट स्कूलों के नतीजे 93 फीसद के करीब हैं। कुल मिलाकर प्राइवेट स्कूल से सरकारी स्कूलों के बच्चे काफी आगे हैं। 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद 2016 से नतीजे हर साल बेहतर होते जा रहे हैं। एक जमाना था जब सरकारी स्कूलों को खराब माना जाता था और अब हमारे सरकारी स्कूलों के बच्चों ने साबित कर दिया है कि प्रतिभा पैसों की मोहताज नहीं है। उन्होंने बताया कि 916 स्कूलों में से 396 स्कूलों में 100 फीसद छात्र-छात्राएं पास हुए हैं। उन्होंने बताया कि 2016 में 85.9 फीलद नतीजे आए और अब 2020 में 98 फीसद नतीजे आए हैं। सरकारी स्कूलों के बच्चों ने साबित कर दिया है कि हम किसी से कम नहीं हैं।

नतीजों ने साबित किया कि सरकारी स्कूल के टीचर किसी प्राइवेट स्कूल से कम नहीं हैं। 2फीसद बच्चे जो फेल हो गए उनको मायूस होने की ज़रूरत नहीं है। हम आपके साथ हैं।  एक्स्ट्रा क्लासेस लगाकर आपकी मदद करेंगे।

डिजिटल पत्रकार वार्ता में मौजूद  मनीष सिसोदिया (शिक्षा मंत्री, दिल्ली) ने बताया कि जो बच्चे पास हुए वो ऐसे परिवारों से आते हैं जहां पहली पीढ़ी 10-12वीं पास किए होती है, जो यूपी या बिहार से आए हैं और छोटे-छोटे काम कर रहे हैं। यह बच्चे सिर्फ पास नहीं हो रहे, बल्कि पहले ऐसे भी स्कूल होते थे जिनके 40 से 50 फ़ीसद नतीजे होते थे, इस बार 916 में से 897 स्कूल ऐसे हैं जिनमें 90 फीसद से ज़्यादा रिजल्ट है, 396 में 100 फीसद रिजल्ट है। अभी तक माना जाता था कि इवनिंग क्लासेस में अच्छी पढ़ाई नहीं होती है। पिछली बार इवनिंग क्लासेस में 90 फ़ीसद का रिजल्ट था इस बार 96.53 फ़ीसद बच्चे पास हुए हैं। हम बहुत जल्द दिल्ली में 100 फ़ीसद का नतीजा हासिल करेंगे।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस