नई दिल्‍ली, जेएनएन। 2030 तक दिल्‍ली में इलेक्‍ट्रिक वाहनों के इस्‍तेमाल को बढ़ावा देने के लिए दिल्‍ली नगर निगम ने कदम बढ़ा दिए हैं। बता दें कि यह केंद्र सरकार की महत्‍वाकांक्षी योजनाओं में शुमार है। इसमें एक एजेंसी ने करीब 25 चार्जिंग स्‍टेशनों का निर्माण कर लिया है। इनका निर्माण लुटियन जोन, सीपी, गोल मार्केट, जोर बाग, सरोजनी नगर मार्केट और यशवंत पैलेस में किया गया है।

केंद्र सरकार ने अगले दस सालों में दिल्‍ली में इलेक्‍ट्रिक वाहनों की बिक्री और उसके इस्‍तेमाल के लिए खासा जोर दे रही है। इसके लिए जमीन स्‍तर पर जोर-शोर से कार्रवाई चल रही है। इन चार्जिंग स्‍टेशनों को आम जनता के लिए मार्च के पहले हफ्ते से खोला जाएगा। यह देश में पहली बार है कि सिविल एजेंसी को चार्जिंग स्‍टेशन बनाने के लिए नियुक्‍त किया गया है।

एप से जुड़ेंगे चार्जिग

इसके साथ सार्वजनिक स्थलों पर भी जनता के लिए चार्जिग स्टेशन उपलब्ध कराए जाएंगे। स्टेशन एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चार्जिग स्टेशन पर लोगों को कोई असुविधा न हो और ई-वाहनों को बढ़ावा दिया जा सकेगा, इसके लिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। चार्जिंग स्टेशनों को मोबाइल एप से जोड़ा जाएगा। इससे ई-वाहन मालिक यह पता कर सकेंगे कि किस चार्जिंग स्टेशन पर वाहन चार्ज करने लिए समय उपलब्ध है या नहीं। ई-वाहन को चार्ज करने के लिए मोबाइल एप के माध्यम से सुविधानुसार समय भी चुन सकेंगे। चार्जिग के लिए एनडीएमसी कितना शुल्क लेगी, अभी यह तय नहीं हो पाया है। पेट्रोल व डीजल की तुलना में यह किफायती होगा।

बनेंगे 100 चार्जिग स्टेशन

लुटियंस दिल्ली को प्रदूषण से राहत देने के लिए ई-वाहनों को बढ़ावा देने पर तेजी से कार्य हो रहा है। इसके लिए नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) 100 चार्जिग स्टेशन स्थापित कर ई-वाहनों की चार्जिग की सुविधा उपलब्ध कराएगा। एनडीएमसी के मुताबिक इसके लिए ऊर्जा मंत्रालय के माध्यम से एक निजी कंपनी से समझौता हुआ है।

जगह और खर्च में होगा राजस्‍व साझा

एनडीएमसी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए कंपनी को जगह देगी और कंपनी इसका खर्च वहन करेगी, जबकि राजस्व दोनों के बीच साझा होगा। ये सार्वजनिक चार्जिग स्टेशन स्मार्ट होंगे। इनमें मोबाइल एप के माध्यम से चार्जिंग स्लॉट (समय) बुक किया जा सकेगा। इन स्टेशनों में चार्जिंग भी तेज होगी, 90 मिनट में वाहन की बैटरी पूरी तरह से चार्ज हो जाएगी।

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप